More
    Homeझारखंडहेल्पलाइन नंबर 182 पर करें शिकायत, चलती ट्रेन में मिलेगी सुरक्षा: आरपीएफ...

    हेल्पलाइन नंबर 182 पर करें शिकायत, चलती ट्रेन में मिलेगी सुरक्षा: आरपीएफ आईजी

    न्यूज़ अरोमा रांची: आरपीएफ आईजी डीबी कासार ने कहा है कि अगले सप्ताह आरपीएफ को 40 नई महिला कॉन्स्टेबल मिलेगा, जो महिलाओं की सुरक्षा पर काम करेगी।

    महिला सुरक्षा को लेकर चल रहे ऑपरेशन मेरी सहेली और मानव तस्करी को रोकने के लिए नन्हे फरिश्ते अब तक सफल रहा है। महिला यात्री ट्रेन में सफर करने के दौरान सुरक्षित महसूस कर रही है। उनका फीडबैक अच्छा मिल रहा है।

    - Advertisement -

    ट्रेन में चल रही एस्कॉर्ट पार्टी को आदेश दिया गया है कि चलती ट्रेन में चुपचाप होकर एस्कॉर्ट ना करें। यात्रियों से बात करें और उन्हें बताएं कि हम आपकी सुरक्षा के लिए हैं। यात्रियों से जुड़ने की कोशिश करें।

    उन्हें विश्वास दिलाएं। आईजी कसार ने महिला सुरक्षा को लेकर इंडियन रेलवे में ऑपरेशन मेरी सहेली लॉन्च किया था।

    जिसकी सफलता के बाद रेल मंत्रालय ने उस ऑपरेशन मेरी सहेली को मंजूरी देते हुए पूरे देश भर में लागू कर दिया। अब तक आईजी कसार 2300 बच्चों को मानव तस्करी से निकाल चुके हैं।

    - Advertisement -

    ट्रेन में सफर करने वाले यात्री को अगर किसी तरह की परेशानी हो वह हेल्पलाइन नंबर 182 पर अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं उन्हें तुरंत चलती ट्रेन में ही सुरक्षा दी जाएगी।

    दक्षिणी पूर्वी रेलवे के आरपीएफ आईजी कसार रांची रेल मंडल के निरीक्षण के लिए पहुंचे थे।

    रांची रेलवे स्टेशन के अलावा कई स्टेशनों का उन्होंने निरीक्षण किया। कोरोना काल के बीच धीरे-धीरे रेल परिचालन सामान्य होते जा रहा है।

    फेस्टिवल के मद्देनजर भी कई ट्रेनें संचालित हो रही है और इन ट्रेनों में सुरक्षा के व्यापक व्यवस्था के साथ ही कोविड-19 के मद्देनजर जारी गाइडलाइन का ख्याल रखने के लिए भी सतर्कता बरतने का निर्देश दिया गया है।

    इसी कड़ी में दक्षिणी पूर्व रेलवे के आरपीएफ आईजी डीबी कसार इंस्पेक्शन के लिए रांची रेल मंडल पहुंचे।

    प्रथम चरण में आरपीएफ आईजी ने हटिया रेलवे स्टेशन, रांची रेलवे स्टेशन, मुरी रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया है। इस दौरान उन्होंने संबंधित अधिकारियों को सुरक्षात्मक कदम उठाने का कई दिशा निर्देश दिया है।

    Must Read