झारखंड

वैज्ञानिक तरीके से खेती कर किसान होंगे सुदृढ़: बादल पत्रलेख

दुमका: झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने वैज्ञानिक तरीके से खेती करने की आवश्यकता पर जोर देते हुए सोमवार को कहा कि राज्य के किसान सुदढ़ होंगे तभी देश समृद्ध होगा।

श्री बादल ने जिले के जरमुंडी प्रखंड कार्यालय परिसर में कृषि प्रौद्योगिकी प्रबन्धन (आत्मा) की ओर से आयोजित दो दिवसीय कृषि मेला सह प्रदर्शनी का दीप प्रज्वलित विधिवत उद्घाटन किया।

इस मौके पर कृषि मंत्री ने अपने संबोधन में किसानों से कृषि विज्ञान केंद्र से जुड़ने तथा वैज्ञानिक तरीके से खेती कर अधिक से अधिक लाभ उठाने की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि इससे किसानों की आर्थिक उन्नति होगी।

उन्होंने कहा कि इससे न सिर्फ किसानों को लाभ होगा, बल्कि विकास को भी गति मिलेगी ।

कृषि मंत्री ने किसानों को वैज्ञानिक पद्धति से खेती करने की सलाह देते हुए कहा कि किसान जब सुदढ़ होंगे, तभी गांव एवं देश समृद्ध होगा।

जिस तरह मनुष्य के शरीर की जांच करके बताया जाता है कि उनके शरीर में किस प्रकार की कमी है ठीक उसी प्रकार मिट्टी की जांच करके पता किया जाता है कि उसमें किस प्रकार के खाद की जरूरत है जिससे किसानों को भरपूर फसल हो सके।

इस अवसर पर कृषि मंत्री ने लाभुको के बीच परिसंपत्तियों का भी वितरण किया।

कृषि मेला सह प्रदर्शनी में उपस्थित किसानों को खेती के साथ ही साथ कृषि आधारित मधुमक्खी पालन, वर्मी कंपोस्ट उत्पादन,बकरी पालन, पशुपालन, मुर्गी पालन, मशरूम उत्पादन, सब्जी उत्पादन इत्यादि व्यवसायों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गयी।

कार्यक्रम में संताल परगना प्रक्षेत्र के संयुक्त कृषि निदेशक अजय कुमार सिंह समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button