झारखंड

हठधर्मिता छोड़ बातचीत से समस्या का समाधान करे सरकारः कालीचरण मुंडा

खूंटी: अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर झारखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव के आह्वान पर चरणबद्ध आंदोलन के तहत केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन काले कृषि कानूनों की वापसी को लेकर व देश के किसानों के आंदोलन के समर्थन में शनिवार को खूंटी जिला मुख्यालय में जिला कांग्रेस कार्यालय पदयात्रा निकाली गयी।

पदयात्रा कांग्रेस कार्यालय से शुरू होकर पिपराटोली, सुभाष चौक, भगत सिंह चौक, खूंटी बाजार होते हुए समाहरणालय तक निकाली गयी।

पदयात्रा कार्यक्रम में केंद्र सरकार के विरोध में तथा आंदोलित किसानों के समर्थन में नारेबाजी की गई।

पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक कालीचरण मुंडा ने कहा कि इस कंपकंपाती ठंड में खुले आसमान के नीचे विगत 80 दिनों से देश के किसान कृषि कानूनों के खिलाफ में आंदोलित हैं।

केंद्र सरकार की प्रताड़ना एवं आरोपों के बीच देश के किसान दिल्ली की सीमा में शांतिपूर्ण एवं गांधीवादी तरीके लड़ाई लड़ रहे हैं।

इस आंदोलन में अबतक 175 से ज्यादा किसानों ने शहादत दे दी है। इसके बाद भी केंद्र सरकार अपनी हठधर्मिता में अडी हुई है।

जोनल कॉर्डिनेटर रमा खलखो ने कहा कि यह आंदोलन गरीबोंए खेती मजदूरोंए आदिवासीए दलित एवं पिछड़ों द्वारा सामूहिक रूप से न केवल खेती-किसानों की रक्षा के लिए, बल्कि जन वितरण प्रणाली की रक्षा के लिए लड़ाई लड़ी जा रही है, सत्ता के नशे में चूर मोदी सरकार आंदोलित लाखों किसानों को बदनाम करने के लिए हर हथकंडे अपना रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button