झारखंड

गुमला में CRPF जवानों को निशाना बनाते हुए किया गया IED ब्लास्ट, जंगल का फायदा उठाकर भागे माओवादी

गुमला: चैनपुर के सिविल गांव स्थित रोदेद जंगल में गुरुवार को सीआरपीएफ 218 बटालियन द्वारा सर्च अभियान के दौरान नक्सलियों द्वारा किए गए आईईडी ब्लास्ट में कुरूमगढ़ सीआरपीएफ 218 बटालियन का रोबिन कुमार नामक एक जवान गंभीर रुप से घायल हो गया।

इस ब्लास्ट में सीआरपीएफ जवान रोबिन कुमार का दोनों पैर बुरी तरह से जख्मी हो गया है।

उसे बेहतर इलाज के लिए हैलीकॉप्टर से रांची मेदांता हॉस्पिटल भेज दिया गया है।

मौके पर उपस्थित सीआरपीएफ बटालियन के सीईओ ने बताया कि सर्च अभियान के दौरान सिविल गांव के रोरेद जंगल में दिन के 2:30 बजे माओवादियों द्वारा सीआरपीएफ बटालियन को निशाना बनाते हुए आईईडी ब्लास्ट की गई।

इसमें सीआरपीएफ का एक जवान इसकी चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गया।

वहीं अन्य जवान सुरक्षित है। आईईडी ब्लास्ट के बाद माओवादी वहां से घने जंगल का फायदा उठाते हुए भागने में सफल हो गए।

वहीं घायल जवान रोबिन कुमार को रोरेद के घने जंगल से सिविल के एक स्कूल के समीप लाया गया जहां चैनपुर से पहुंचे स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा प्राथमिक इलाज के बाद रांची से आए हेलीकॉप्टर से रांची मेदांता अस्पताल भेज दिया गया है।

इधर, इस घटना से सिविल गांव व आसपास क्षेत्र के ग्रामीण काफी डरे सहमे हुए हैं।

गांव में घटना के बाद गांव के ग्रामीण डरे सहमे हैं। वहीं गांव के ग्रामीण अजित टोप्पोव हसरू टोप्पो ने बताया कि गांव के ऊपर जंगल में एक जोरदार धमाका हुआ, जिसके बाद हम सभी घरों मे दुबक गयें।

गोलियां की भी आवाज सुनाई दे रही थी। वहीं एक जवान जो विस्फोट में घायल हुए इसे लेकर सिविल स्कूल की ओर ले गए। फिर आसमान में हेलीकॉप्टर मंडराने लगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button