क्राइमझारखंड

झारखंड : गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिला तो नाराज छात्र ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

जमशेदपुर: गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिलने से नाराज परसुडीह के श्यामा प्रसाद हाई स्कूल के सातवीं कक्षा के छात्र सोमनाथ शर्मा (16) ने शुक्रवार दोपहर फांसी लगा ली।

मृतक बागबेड़ा थाना अंतर्गत हरहरगुट्टू शिव मंदिर के पास रहने वाले मैकेनिक संतोष शर्मा का बड़ा पुत्र था।

सोमनाथ की छोटी बहन ने शाम करीब चार बजे उसे फंदे से झूलते देखा।

उसके शोर मचाने पर घर के अन्य लोग जुटे और कमरे का दरवाजा तोड़ उसे फंदे से उतारा।

तब तक सोमनाथ की मौत हो चुकी थी। घटना की सूचना पर बागबेड़ा पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। सोमनाथ दो भाई और दो बहनों में सबसे बड़ा था।

संतोष शर्मा के अनुसार, घटना के दौरान वे गैरेज गए थे। सोमनाथ काफी जिद्दी था।

वह ऑनलाइन गेम खेलने का आदी था। घर में एक ही मोबाइल है।

मोबाइल को लेकर ही शुक्रवार दोपहर सोमनाथ का उसके भाई-बहनों से विवाद हुआ था।

उन्होंने फोन पर सभी बच्चों को डांट लगाई थी और पत्नी को मोबाइल अपने पास रखने को कहा था।

दोपहर में पत्नी काम पर चली गई। मोबाइल नहीं मिलने से नाराज होकर सोमनाथ कमरे में सोने चला गया और फांसी लगा ली। शाम में उनकी बेटी कमरे की ओर गई तो उसे फंदे से झूलते देखा।

इधर, बोड़ाम में विक्षिप्त युवक घर के पीछे पेड़ पर फंदे से लटका मिला

पटमदा | बोड़ाम थाना के हलुदबनी निवासी गुलाब प्रमाणिक (21) ने शुक्रवार को घर के पीछे एक पेड़ पर फंदे से लटका मिला।

मृतक की मां सहचरी प्रमाणिक ने ही उसे फंदे से झूलता देखा।

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को फंदे से उतार पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

घटना के दौरान गुलाब अपनी मां के साथ जंगल में पत्ता चुनने गया था। मौका देख वह घर आ गया।

थाना में मृतक की मां के बयान पर अस्वभाविक मौत का मामला दर्ज किया गया है। इस संबंध में बोड़ाम थाना के एएसआई प्रमोद कुमार ने बताया- मृतक काफी दिनों से मानसिक रूप से बीमार था।

परिवार की माली हालत ठीक नहीं रहने के कारण उसका इलाज नहीं हो पा रहा था।

उसके पिता का निधन पूर्व में हो चुका है। मृतक की मां और छोटी बहन ही मजदूरी कर अपना परिवार चलाती थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button