झारखंड

झारखंड : ईसीएल सुरक्षा गार्ड और निरसा पुलिस के बीच झड़प, पुलिस जवानों पर की पत्थरबाजी, मामला दर्ज

धनबाद : निरसा स्थित ईसीएल मुगमा क्षेत्र अंतर्गत कापासारा आउटसोर्सिंग में शनिवार की सुबह कोयला चोरों और सीआईएसएफ, ईसीएल सुरक्षा गार्ड एवं निरसा पुलिस के बीच झड़प हो गई।

बताया जा रहा है कि कोयला चोरी रोकने गए सुरक्षा जवानों पर कोयला चोरों ने पत्थरबाजी कर दी जिसमें पुलिस, सीआईएसएफ और सुरक्षा गार्डों के वाहन क्षतिग्रस्त हो गए है।

साथ ही सीआईएसएफ के तीन जवान भी घायल हो गए, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घटना की सूचना पर निरसा एसडीपीओ विजय कुमार कुशवाहा एवं निरसा थाना प्रभारी सह पुलिस निरीक्षक सुभाष सिंह दलबल के साथ कापासारा पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली।

बताया जाता है कि सैकड़ों की संख्या में रोजाना कापासारा आउटसोर्सिंग में घुसकर कोयला चोरों द्वारा सैकड़ों टन कोयला चुरा लिया जाता है।

इसे रोकने को लेकर कोयला चोरों और सुरक्षा जवानों के बीच कई बार नोकझोंक व मारपीट की घटना भी हो चुकी है।

इसी क्रम में शनिवार की सुबह जब सीआईएसएफ और ईसीएल के सुरक्षा गार्ड की टीम कापासारा पहुंची तो सैकड़ों कोयला चोर कोयला चुराने में व्यस्त थे।

इसके बाद सुरक्षा जवानों के द्वारा तत्काल इसकी सुच्छन निरसा पुलिस को दी गई।

निरसा पुलिस के मौके पर पहुंचने के बाद सुरक्षा जवानों के द्वारा कोयला चोरी रोकने का प्रयास किया गया, लेकिन सैकड़ों की संख्या में मौजूद कोयला चोरों ने सुरक्षा बलों पर पत्थरबाजी शुरू कर दी।

जिसमें तीन वाहन क्षतिग्रस्त एवं तीन सुरक्षा जवान घायल हो गए। घायलों में इरफामूल हक, अभिजीत रजक एवं मो मनेरुल शामिल हैं।

इस संबंध में निरसा एसडीपीओ विजय कुमार कुशवाहा ने बताया कि कापासारा आउटसोर्सिंग प्रबंधक की लापरवाही के कारण इस तरह की घटना यहाँ आए दिन घटती रहती है।

प्रबंधक द्वारा यहाँ सुरक्षा का कोई पुख्ता व्यवस्था नही है। कोयला चोर खुलेआम कोयला चोरी कर निकल जाते है।

घटना में अभी तक कोई गिरफ्तारी नही हुई है। फिलहाल ज्ञात एवं अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button