झारखंड

झारखंड : तीन लड़कियों को बहला-फुसलाकर दिल्ली ले जा रहा व्यक्ति गिरफ्तार

रांची: स्थानीय रेलवे स्टेशन से आरपीएफ की सकर्तता से बहला फुसला कर दिल्ली ले जाई जा रही तीन लड़कियों की तस्करी होने से बचा लिया गया। 

आरपीएफ ने लड़कियों को ले जाने वाले व्यक्ति को हिरासत में लेकर पुसिल के हवाले कर दिया है बताया गया कि आरपीएफ की नन्हे फरिश्ते टीम स्टेशन पर संबलपुर-जम्मूतवी एक्सप्रेस को चेक कर रही थी, तभी कोच संख्या एएस-3 में उन्होंने तीन लड़कियाें को डरा सहमा बैठा देखा। 

संदेह होने पर टीम ने उनसे पूछताछ की, तो लड़कियों ने बताया कि बगल वाले कंपार्टमेंट की सीट नंबर 47 पर एक आदमी बैठा है। वह हम लोगों को दिल्ली में काम दिलाने के लिए ले जा रहा है। 

आरपीएफ ने पूछताछ के दौरान उनके परिजनों से मोबाइल पर संपर्क किया गया तो पता चला कि यह व्यक्ति लड़कियों को बहला-फुसलाकर दिल्ली ले जा रहा है। 

लड़कियों ने बताया कि तीनों सिमडेगा जिले की रहने वाली है। इनमें दो नाबालिग और एक बालिग है। 

पुलिस ने लड़कियों को ले जाने वाले सिमडेगा निवासी कैलाश चिक बड़ाईक को हिरासत में लेकर सभी को ट्रेन से उतार लिया। सिमडेगा जिले के एएचटीयू थाना को सूचना दी गई। 

बुधवार को सिमडेगा एएचटीयू थाना पुलिस को तीनों लड़कियों और उन्हें बाहर ले जाने वाले व्यक्ति को सौंप दिया गया। 

मामले में आगे की कार्रवाई सिमडेगा जिले की पुलिस करेगी। आरपीएफ टीम में उपनिरीक्षक सुनीता तिर्की, सहायक उपनिरीक्षक रविशंकर, महिला आरक्षी सोनू कुमावत, महिला आरक्षी कीर्ति कुजुर, प्रधान आरक्षक सुनील कुमार यादव, आरक्षी सलीम सिद्दीकी, नन्हें फरिश्ते टीम और एसटीएफ टीम तथा अन्य जवान शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button