More

    एनएसयूआई की सोनिया से अपील, संगठन की पृष्ठभूमि वाले नेताओं को नियुक्त करें

    नई दिल्ली: पूर्व प्रभारी रुचि गुप्ता के इस्तीफे से नाराज कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर संगठनात्मक पृष्ठभूमि वाले नेताओं को नियुक्त करने की मांग की है।

    रुचि गुप्ता ने कांग्रेस महासचिव के.सी. वेणुगोपाल पर पार्टी की कई इकाइयों के पुनर्गठन में देरी करने और पार्टी को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया था।

    यह पत्र नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के पदाधिकारियों द्वारा 1 फरवरी को अपनी आमसभा की बैठक के बाद लिखा गया था।

    - Advertisement -

    इस पर 22 पदाधिकारियों में से 17 ने हस्ताक्षर किए थे।

    बैठक के दौरान एनएसयूआई ने राहुल गांधी को कांग्रेस का अगला अध्यक्ष बनाने के लिए एक प्रस्ताव भी पारित किया।

    - Advertisement -

    आईएएनएस को मिली पत्र की प्रति में कहा गया है कि एनएसयूआई को कांग्रेस की नर्सरी के रूप में देखा जाता है, जो पार्टी के लिए भावी नेतृत्व और कार्यकर्ता प्रदान करता है।

    लेकिन फिलहाल कोई नेतृत्व नहीं होने के कारण, युवा कार्यकर्ता शांत हैं, क्योंकि उनके कंधों पर बड़ी जिम्मेदारी है।

    पत्र में यह भी कहा गया है कि एनएसयूआई बहुत फूंक-फूंक कर कदम आगे बढ़ा रही है।

    - Advertisement -

    एनएसयूआई के राष्ट्रीय पदाधिकारियों ने पत्र में कहा कि देश के युवा खुद को एनएसयूआई और कांग्रेस की विचारधारा के साथ जोड़ रहे हैं, लेकिन छात्र इकाई संगठन को सभी को अपनी तरफ लाने के लिए बहुत कुछ करने की जरूरत है।

    एनएसयूआई नेतृत्व को किसी ऐसे शख्स की जरूरत है, जिसके पास आगे बढ़ने के लिए एक स्पष्ट दिशा हो।

    पिछले साल दिसंबर में एनएसयूआई के प्रभारी के पद से हटने वाली रचि गुप्ता की आलोचना करते हुए पत्र में कहा गया है कि पूर्व प्रभारी रुचि गुप्ता एनएसयूआई जैसे संगठन को आगे बढ़ाने के तरीके नहीं जानती थीं, क्योंकि वह एक गैर-संगठनात्मक और गैर-राजनीतिक पृष्ठभूमि से हैं।

    उनके कुछ फैसलों को प्रतिशोधी कहा जा सकता है।

    पत्र में यह भी आरोप लगाया गया कि रुचि ने संगठन की छवि को खराब करने के लिए मीडिया और सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया और एनएसयूआई की छवि को नकारात्मक रूप से प्रभावित किया।

    पत्र में कहा गया है, हमारा विनम्र अनुरोध है कि आप इस पर गौर करें कि एनएसयूआई को संगठनात्मक पृष्ठभूमि वाला प्रभारी मिले, कोई ऐसा व्यक्ति जो एनएसयूआई की क्षमताओं और कमियों को समझता हो।

    रुचि गुप्ता ने वेणुगोपाल पर कई इकाइयों के पुनर्गठन में देरी करने और पार्टी को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाने के बाद पिछले साल दिसंबर में ट्विटर पर पार्टी से इस्तीफे की घोषणा की थी।

    spot_imgspot_img
    spot_img

    Get in Touch

    62,437FansLike
    86FollowersFollow
    0SubscribersSubscribe

    Latest Posts

    1