More

    खूंटी जिले में धारदार हथियार से वारकर वृद्ध की हत्या

    खूंटी: जिले के मुरहू थानांतर्गत गम्हरिया गांव निवासी चरक स्वांसी (70) की गुरुवार की रात अज्ञात अपराधियों ने धारदार हथियार टांगी से मारकर हत्या कर दी।

    हत्या की सूचना शुक्रवार सुबह मुरहू थाना की पुलिस को मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और आवश्यक छानबीन के बाद पुलिस ने शव का सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया और परिजनों को सौंप दिया।

    पोस्टमार्टम हाउस में मृतक के बड़े पुत्र अभिराम स्वांसी ने बताया कि गुरुवार की रात लगभग आठ बजे उसके पिता चरक स्वांसी गांव में स्थित पुराने आवास में खाना खाकर वहां से थोड़ी दूर में स्थित नए घर में सोने चले गए।

    - Advertisement -

    बताया गया कि नए घर का गेट के सामने ही पहले से घात लगाए अपराधियों ने उनके वृद्ध पिता की धारदार हथियार से हत्या कर दी।

    उसने बताया कि हत्या की सूचना स्वजनों को शुक्रवार सुबह तब मिली, जब ग्रामीणों ने नए घर के गेट के सामने पिता के शव को पड़ा देखा।

    - Advertisement -

    उसने बताया कि गुरुवार रात वह घर में नहीं था। ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने रात में गोली की एक आवाज सुनी थी, लेकिन डर के कारण कोई ग्रामीण रात में घर से बाहर नहीं निकला।

    इसलिए ग्रामीणों को सुबह मामले की जानकारी हुई। दूसरी ओर, मुरहू थाना प्रभारी विक्रांत कुमार ने गोली मारने की बात से इनकार करते हुए बताया कि हत्या में अपराधियों ने धारदार हथियार टांगी का उपयोग किया है।

    हत्या के कारणों की पड़ताल करने पर मृतक के स्वजनों ने बताया कि चरक का किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी।

    - Advertisement -

    स्वजनों ने आशंका व्यक्त की कि गत नवंबर माह में मोजेश धनवार नामक गांव के एक अपराधी का गांव में ग्रामीणों द्वारा किए गए सेंदरा के प्रतिशोध में अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया होगा।

    बताया कि उग्रवादी संगठन पीएलएफआई से जुड़े उक्त अपराधी का सेंदरा करने के बाद संगठन से जुड़े अन्य अपराधियों ने मृतक के एक अन्य पुत्र विश्राम स्वांसी पर सेंदरा में अहम भूमिका निभाने का संदेह व्यक्त करते हुए गत दिसंबर व जनवरी माह में उस पर तीन बार जानलेवा हमला किया, लेकिन हर बार वह हमले से बच निकला।

    लगातार हो रहे जानलेवा हमले के बाद मुरहू पुलिस की सलाह पर उसने गांव छोड़ दिया और रांची में रहना शुरू कर दिया था।

    विश्राम स्वांसी ने बताया कि उस पर तीन बार हुए जानलेवा हमले में मोचेश के पिता, गांव के ही रबिया मुंडा, राजेंद्र साहू, कृष्णा साहू्, फुलमनी होरो सहित तोरपा क्षेत्र के राटा उर्फ रोहित और पंचघाघ मोड़ के पास रहने वाले राजेंद्र महतो शामिल हैं। इसकी पूरी जानकारी उसने मुरहू पुलिस को दे दी है।

    उसने आशंका व्यक्त की है कि संभवतः इसी प्रतिशोध में अपराधियों ने उसके वृद्ध पिता की हत्या कर दी। पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है। समाचार लिखे जाने तक किसी गिरफ्तारी की सूचना नहीं है।

    spot_imgspot_img
    spot_img

    Get in Touch

    62,437FansLike
    86FollowersFollow
    0SubscribersSubscribe

    Latest Posts

    1