भारत

कृषि कानूनों के विरोध को भुनाने में लगी कांग्रेस, प्रियंका मुजफ्फरनगर में किसानों को करेंगी संबोधित

मुजफ्फरनगर: तीन कृषि कानूनों के विरोध में सियासत को भुनाने में अब कांग्रेस भी लग गई है।

यूपी के अलग-अलग शहरों में जाकर किसानों के मुद्दों पर सरकार को घेर रहीं प्रियंका गांधी वाड्रा शनिवार को मुजफ्फरनगर के बघरा गांव में आज किसानों को संबोधित करेंगी।

वह तीन नए कृषि कानून के विरोध को भुना कर अपनी सियासी जमीन मजबूत कर ही है।

इससे पहले प्रियंका गांधी यूपी के सहारनपुर और बिजनौर में हुई किसान महापंचायत में शामिल हो चुकी हैं।

स्वामी कल्याणदेव डिग्री कालेज में आज होने वाली कांग्रेस किसान महापंचायत में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी प्रियंका वाड्रा कृषि कानूनों का विरोध करेंगी।

महापंचायत में कोई कोर कसर बाकी न रहे इसके लिए पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष एक दिन पहले मुजफ्फरनगर पहुंचे, जिन्होंने स्थानीय नेताओं के साथ मैदान में तैयारी का जायजा लेते हुए अन्य रणनीतियां बनाईं।

गाजीपुर बॉर्डर पर कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर धरने पर बैठे भाकियू नेताओं के बाद अब मुजफ्फरनगर में भी किसानों की महापंचायतों का दौर शुरू हो चुका है।

जिलाध्यक्ष सुबोध शर्मा के अनुसार महापंचायत में मुख्य वक्ता प्रियंका वाड्रा 12 बजे तक पहुंचेंगी, लेकिन विभिन्न गांवों से बसों व ट्रैक्टर-ट्रालियों से किसान सुबह से ही मैदान में पहुंचने शुरू हो जाएंगे।

वाहनों की पार्किं ग और पंचायत स्थल पर किसानों व आम आदमियों के बैठने की व्यवस्था एक दिन पूर्व पूरी कर ली गई है।

ज्ञात हो यूपी में अभी सत्ता का सेमीफाइनल माने जाने वाला पंचायत चुनाव प्रस्तावित है। इसके बाद 2022 में विधानसभा चुनाव होने है।

ऐसे में कांग्रेस तीन नए कृषि कानूनों के विरोध को भुना कर अपनी सियासी जमीन मजबूत कर ही है।

प्रियंका यूपी में काफी एक्टिव नजर आ रही हैं। सहारनपुर में शाकुंभरी देवी के दर्शन और प्रयागराज में संगम में डुबकी के जरिए वो लोगों से जुड़ रही हैं।

किसान आंदोलन को लेकर वह लगातार सरकार पर हमलावर हैं। फरवरी में अब तक प्रियंका 4 बार उत्तर प्रदेश का दौरा कर चुकी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button