More

    रांची में आज फिर से हुआ बवाल, तीन थानों की पुलिस ने संभाला मोर्चा

    रांची: राजधानी रांची के डोरंडा में शनिवार को हुए घटना को लेकर आज फिर लोग भीड़ गए। दो पक्ष के लोग आमने-सामने हो गए, एक बार फिर माहौल को बिगाड़ने की कोशिश की गई।

    वक़्त रहते लोगों ने पुलिस को जानकारी दी जिसके बाद मौके पर तत्काल पहुंची पुलिस ने मामला ज्यादा बिगड़ने से पहले उसे संभाल लिया।

    बताया जा रहा है की आज रविवार को दर्जी मुहल्ला के कुछ लड़के जा रहे थे उसी वक़्त 50-100 की संख्या में जमा थे और अंधेरे में हमला करने की नियत से उन्होंने लाइट भी बंद कर के रखा हुआ था।

    - Advertisement -

    जैसे ही दर्जी मुहल्ले के लड़के वहां पहुंचे तो उनपर भीड़ ने हमला कर दिया। जिसमें उनमें से कई लड़कों को चोट भी लगी है। इसके बाद शाम में फिर से बाइक सवार कुछ युवक वहां पहुंचे और मंदिर के पास बैठे युवकों पर कमेंट करने लगे। इसी बात को लेकर दोनो पक्ष के लोग आमने-सामने हो गए।

    वहीं दुसरे पक्ष का कहना है कि चार से पांच बाइक पर कुछ लड़के मंदिर के पास चक्कर काट रहे थे तभी उन्हें मना किया गया, नहीं माने तो उन्हें भगाया गया उसी दौरान बाइक से भागते हुए वो गिर पड़े और उन्हें चोट आई है।

    - Advertisement -

    तभी वहां अफरा-तफरी का माहौल बन गया। तभी वहां से बाइक लेकर सभी युवक दरजी मुहल्ला पहुंचे और अपने जानने वालों को घटना की जानकारी दी।

    उन्हें जैसे ही इस मामले की जानकारी मिले तभी तुरंत दरजी मुहल्ले के लोग भी मौके पर पहुंचे। इस दौरान दोनों तरफ से नारेबाजी भी की गई।

    बता दें कि दोनों तरफ से लोगों को भिड़ता देख तत्काल मामले की जानकारी पुलिस को दी गई, जिसके बाद एयरपोर्ट थाने की पुलिस, चुटिया थाने की पुलिस और डोरंडा थाने ने पहुंच कर मामले को संभाला।

    - Advertisement -

    पुलिस ने चेतावनी सेते हुए लोगों को कहा है कि फिर से इस तरह से माहौल ख़राब करने की कोशिश की गई तो उसमें शामिल किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

    हालांकि पुलिस के पहुंचने से पहले ही ये सभी घटना हो चुकी थी, जिसमें कुछ लोगों को चोट भी आई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है, और कल की घटना के ज़िम्मेदार को सरेंडर करने के लिए पुलिस ने कहा है।

    इधर दर्ज़ी मुहल्ले में लोग मामले का हल निकालने को लेकर बैठक कर रहे हैं, जिससे इस तरह की घटना फिर से न हो भाईचारा बना रहे इसकी पूरी कोशश की जा रही है।

    वहीं पुलिस की तरफ से भी कोशिश हो रही है की माहौल शांत रहे , इसी को देखते हुए हटिया एएसपी ने भी बाद में दोनों पक्ष के लोगों से बातचीत की और अमन चैन बहाल रखने को कहा है।

    एहतियात के तौर पर पुलिस इलाके में लगातार पेट्रोलिंग कर रही है, देर शाम तक पुलिस की भी तैनाती कर दी गई थी। अभी माहौल शांत है पुलिस ने किसी भी तरह के अफवाह पर ध्यान नहीं देने की अपील की है।

    रांची के लोग अफवाह पर न दें ध्यान

    डोरंडा सेंट्रल मोहर्रम कमेटी के सदर अशरफ अंसारी ने कहा कि घटना में जो लोग सांप्रदायिक घटना बनाने को तूल दे रहे हैं।

    गलत करने वाले दोनों पक्षों को ना छोड़ा जाए औरे रांची जिला प्रशासन से मांग करते हैं, कि दोनों पक्षों के बीच सुलह कराने की कोशिश किया जाए।

    क्योंकि डोरंडा अमन पसंद लोगों की एक पहचान रहा है और शहर में तरह-तरह की अफवाह जो फैल रही है शहरवासी अफवाह पर ध्यान ना दें।

    डोरंडा में हो रही माहौल बिगाड़ने की कोशिश

    वहीं कल भवानीपुर डोरण्डा की घटना जो घटित हुई थी उसी को लेकर आज फिर माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

    कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा  मंदिर के आस पास मोहल्लों में लगातार असामाजिक तत्वों द्वारा लगातार आना जाना कर रहे हैं।

    इसी को लेकर आज शाम 7:30 बजे दो पहिया वाहन पर चार पांच लड़के लगातार मंदिर की और  मोहल्ले में आना जाना कर रहे थे, वहां के स्थानीय लोगों द्वारा उसे रोकने पर अप शब्द का प्रयोग करते हुए वह से भाग गए इस तरह की घटना से वहां के लोगों में आक्रोश हैं।

    श्री महावीर मंडल डोरण्डा केंद्रीय समिति यह मांग करती है कि वहां पर पुलिस गस्त लगाया जाए और ऐसे असमाजिक तत्व जो कल इस घटना को अंजाम दिए हैं उसे  गिरफ्तार किया जाए।

    ऐसे लोग जो मोहल्ले में  बेवजह घूम रहे हैं उसे रोका जाए ताकि शांति व्यवस्था कायम रहे।

    मंडल 24 घंटे का समय प्रशासन को दिया था इसी के निमित कल रांची महावीर मंडल और डोरण्डा महावीर मंडल के पदाधिकारी सहित  डोरण्डा के सभी धार्मिक संगठन के पदाधिकारी थाना प्रभारी से मिल कर एक ज्ञापन भी सौंपेगा।

    क्या था मामला

    बता दें कि शनिवार को भवानीपुर मैदान के पास रखे बांस को दो-तीन लड़के उठा रहे थे। बजरंग साहू ने उन्हें बांस उठाने से मना किया, तो लड़के उनसे उलझ गए और गाली-गलौज करके चले गए।

    कुछ देर बाद उन्होंने अपने ग्रुप के कई युवकों को बुला लिया। दर्जनों लोगों को बुलाते ही बजरंग साहू और अभिषेक ठाकुर पर हमला कर दिया। इस हमले में उन्हें चोट भी आई है।

    उनका इलाज अस्पताल में करवाया गया। हालांकि असामाजिक तत्वों द्वारा इस मारपीट की घटना को सांप्रदायिक रंग देने की भी कोशिश की गई थी।

    लेकिन पुलिस ने इसे महज़ मारपीट की घटना बताया। डोरंडा थाना प्रभारी रमेश कुमार सिंह बताया है कि यहां टेंट हाउस का डंडा उठाने को लेकर विवाद होने पर मारपीट की घटना हुई है।

    मारपीट करने वालों की पहचान की जा रही है। बजरंग साहू की तरफ से लगभग 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है।

    युवकों ने कहा- डंडों के साथ गुल्ली डंडा खेलेंगे

    डोरंडा दर्जी मोहल्ले के कुछ युवक टेंट हाउस का बांस उठा रहे थे, तभी उन्हें बांस लेने से मना किया तो वो नहीं माने।

    उन्होंने बार-बार मना करने पर भी वो बांस उठा ही रहे थे। बांस उठाने से जब रोका और पूछा की ये बांस क्यों उठा रहे हो तो उन्होंने कहा की गुल्ली डंडा खेलेंगे।

    फिर उन्हें मना किया गया तो सभी ने कुछ ही देर में दर्जनों लोगों को बुला लिया और उसके बाद हमला कर दिया।

    डोरंडा थाना प्रभारी रमेश कुमार सिंह ने कहा है टेंट हाउस का डंडा उठाने को लेकर विवाद होने पर मारपीट की घटना हुई है। मारपीट करने वालों की पहचान की जा रही है।

    इधर, महावीर मंडल डोरंडा केंद्रीय समिति के अध्यक्ष संजय पोद्दार, मंत्री पप्पू वर्मा ने असमाजिक तत्वों को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की है।

    spot_imgspot_img
    spot_img

    Get in Touch

    62,437FansLike
    86FollowersFollow
    0SubscribersSubscribe

    Latest Posts

    1