More

    एक साथ निकली पांच बच्चों की अर्थी, सैकड़ों घर में नहीं जले चूल्हे

    बेगूसराय: बेगूसराय जिले के बखरी प्रखंड क्षेत्र स्थित घाघड़ा गांव में पांच बच्चों की डूबकर हुई मौत से मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। गांव के एक सौ से अधिक घरों में चूल्हे नहीं जले हैं।

    देर रात पोस्टमार्टम के बाद शव गांव आते ही एक बार फिर परिजनों के करुण क्रंदन ने गांव वालों को रोने पर मजबूर कर दिया।

    मंगलवार को जब एक साथ पांच अर्थी गांव से निकली तो हाहाकार मच गया।

    - Advertisement -

    सभी बच्चों का अंतिम संस्कार बूढ़ी गंडक नदी के सोहागी घाट पर किया गया। जहां कि गमगीन माहौल के बीच परिजनों ने अपने लाल को मुखाग्नि दी।

    लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि एक ओर कोरोना वायरस का कहर है तो दूसरी ओर हम गांव वालों ने किसका क्या बिगाड़ा कि पांच बच्चे एक साथ असमय काल कवलित हो गए।

    - Advertisement -

    गांव में पसरे मातमी सन्नाटा के बीच परिजन लगातार बेहोश हो रहे हैं, स्थानीय स्तर पर इलाज चल रहा है।

    प्रशासनिक स्तर पर सभी मृतक केे परिजनों को तत्काल कबीर अंत्येष्टि योजना के तहत अंतिम संस्कार के लिए तीन-तीन हजार की सहायता राशि दी गई है।

    जबकि, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी के परिजनों को आपदा राहत कोष से चार-चार लाख की सहायता देने का निर्देश दिया गया हैै, इस आलोक में अग्रसर कार्रवाई की जा रही हैै।

    - Advertisement -

    इधर, घटना की सूचना मिलते ही बखरी विधायक सूर्यकांत पासवान समेत अन्य जनप्रतिनिधि मृतक के घर जाकर सांत्वना दे रहे हैं।

    विधायक ने बताया कि भयानक हादसा में पांच बच्चों की एक साथ डूबने से हुई मौत से इलाके के लोग हतप्रभ हैं। देर रात में पोस्टमार्टम के बाद सभी मृतक को गांव लाया गया।

    आज गमगीन माहौल के बीच दाह संस्कार किया गया। मृतक के परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया तथा प्रखण्ड विकास पदाधिकारी बखरी से बात कर तात्कालिक तौर पर दाह संस्कार के लिए कबीर अंत्येष्ठि मद की राशि सभी परिजनों को दिलाया है।

    मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप सभी परिवार को अविलंब आपदा राहत कोष से राशि देने का अनुरोध किया गया है।

    दूसरी ओर, उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय घाघड़ा में प्रधानाध्यापक दिलीप कुमार की अध्यक्षता में शोक सभा आयोजित कर सभी छात्रों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए आत्मा शांति की प्रार्थना की गई है।

    पांच मृतक में से चार इसी विद्यालय के छात्र थे। उल्लेखनीय है कि सोमवार को बखरी थाना क्षेत्र के इटवा चौर में स्नान के दौरान पानी भरे गड्ढे में डूबकर घाघड़ा निवासी इंद्रदेव महतों के पुत्र अभिषेक कुमार, बिंदेश्वरी ठाकुर के पुत्र चैंपियन कुमार, शिवजी ठाकुर के पुत्र संतोष कुमार, लूटन साह के पुत्र रजनी कुमार तथा अंकुल पासवान के पुत्र अनुज कुमार की मौत हो गई थी।

    spot_imgspot_img
    spot_img

    Get in Touch

    62,437FansLike
    86FollowersFollow
    0SubscribersSubscribe

    Latest Posts

    1