खेल

कोहनी की चोट के चलते विलियम्सन दूसरे टेस्ट से बाहर, लाथम संभालेंगे कप्तानी

लंदन: न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन बाईं कोहनी की चोट के चलते इंग्लैंड के खिलाफ 10 जून से एजबस्टन में खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट से बाहर हो गए हैं।

उनकी जगह टॉम लाथम कप्तानी संभालेंगे।न्यूजीलैंड क्रिकेट ने बुधवार को इसकी पुष्टि की है।

चोटिल कोहनी के मद्देनजर कुछ आराम करने के उद्देश्य से विलियम्सन दूसरा टेस्ट नहीं खेलेंगे।

उनकी जगह पर विल यंग को टीम में जगह दी गई है और वह तीन नंबर पर खेलते नजर आएंगे।

न्यूजीलैंड के मुख्य कोच गैरी स्टेड के मुताबिक विलियम्सन को बाहर रखना एक मुश्किल फैसला था, लेकिन न्यूजीलैंड के कप्तान होने के नाते उन्हें चोट का प्रबंधन करने और सही फैसला लेने की जरूरत थी।

उन्होंने बुधवार को एक बयान में कहा, “ केन के लिए दूसरा टेस्ट नहीं खेलना आसान फैसला नहीं है, लेकिन हमें लगता है कि यह सही है।

उनकी कोहनी में एक इंजेक्शन लगाया गया है जिससे वह बल्लेबाजी करते समय और आराम की अवधि के दौरान होने वाली जलन को दूर कर सके।

रिहैबिलिएटेशन उन्हें चोट से पूरी तरह ठीक होने में मदद करेगा।

विलियम्सन को आराम करने और स्वस्थ होने का मौका देने का फैसला साउथम्प्टन में भारत के खिलाफ आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल को ध्यान में रखकर लिया गया है।

हमें विश्वास है कि केन 18 जून से शुरू होने वाले डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए तैयार होंगे।

” इससे पहले न्यूजीलैंड के मुख्य कोच गैरी स्टेड ने एक बयान में कहा था, “ न्यूजीलैंड के ऑल राउंडर खिलाड़ी मिचेल सेंटनर भी बाएं हाथ की तर्जनी उंगली कट जाने के कारण इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से बाहर हो गए हैं।

टेस्ट सीरीज से पहले एक इंट्रा-स्क्वाड मैच खेलते समय उन्हें चोट लग गई थी, लेकिन वह पहले टेस्ट के लिए उपलब्ध थे, जिसमें उन्होंने 23 ओवर फेंके थे और केवल छह गेंदें खेली थी।

एजाज पटेल न्यूजीलैंड की टीम में उपलब्ध एकमात्र अन्य स्पिन विकल्प हैं।

” उधर बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट की संभावित वापसी दर्शकों के लिए अच्छी खबर है, जो दूसरे टेस्ट के लिए उपलब्ध होंगे।

ब्रिटेन सरकार की ओर से क्वारंटीन नियमों में थोड़ी ढील दिए जाने के बाद उनके एकादश में लौटने की संभावना है।

क्वारंटीन में छूट के बाद उन्हें निर्धारित समय से तीन दिन पहले अभ्यास करने की अनुमति मिली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button