COVID वैक्सीन लगवाने के कुछ देर बाद ही 45 साल के एक शख्स की हो गई मौत

मुंबई: महाराष्ट्र के भिवंडी में मंगलवार को 45 साल के एक शख्स की कोविड वैक्सीन लगवाने के कुछ देर बाद ही मौत हो गई। अभी तक शख्स की मौत का कारण पता नहीं चल पाया।

एक नेत्र विशेषज्ञ के ड्राइवर के तौर पर काम करने वाले, दो बच्चों के पिता सुखदेव किरदित मंगलवार को भिवंडी के एक अस्पताल में वैक्सीन की दूसरी डोज लेने गए थे। यहां पर उन्हें वैक्सीन लगाने के बाद ऑब्जर्वेशन रूम में रखा गया था।

लेकिन वैक्सीन लगवाने के बाद ही किरदित 15 मिनट बाद ऑब्जर्वेशन रूम में बेहोश हो गए। उन्हें तुरंत पास के इंदिरा गांधी मेमोरियल अस्पताल में ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

शख्स ने 28 जनवरी को बतौर स्वास्थ्यकर्मी कोविड वैक्सीन की पहली डोज ली थी। डॉक्टरों का कहना है कि उनकी मौत का कारण अभी पता नहीं चल पाया है और पोस्टमार्टम के बाद चीजें साफ होंगी।

अस्पताल के डॉक्टर केआर खराट ने कहा कि ‘एक महीने उन्होंने अपनी पहली डोज ली थी और उस वक्त कोई दिक्कत नहीं था। इस वाले डोज के पहले उनका फुल चेक-अप हुआ था।

हमें जानकारी मिली कि सालों से उन्हें ब्लड प्रेशर और पैरों में सूजन हो जाने जैसी समस्या थी। लेकिन आज के डोज के पहले चेकअप में बीपी और ऑक्सीजन लेवल वगैरह सबकुछ सामान्य था।’

बता दें कि देश में कोरोना के खिलाफ 16 जनवरी से वैक्सीनेशन शुरू किया गया है। पहले चरण में लाखों हेल्थकेयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया गया था।

पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को प्राथमिकता दी गई थी। 1 मार्च से वैक्सीनेशन ड्राइव का दूसरा चरण शुरू हुआ है। इस चरण में 60 से ज्यादा उम्र के लोगों और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 45 से ऊपर की उम्र के लोगों को टीका लगाया जाएगा।

मंगलवार को महाराष्ट्र में कुल 33,044 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। कोरोनावायरस के मामलों की बात करें तो राज्य में बीते दिन 7,863 नए मामले सामने आए, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 21,69,330 हो गई।

महामारी से 54 और मरीजों की मौत हो गई। इसके साथ ही मृतकों की संख्या 52,238 हो गई।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button