किसानों के मुद्दे पर अमित शाह की एक और बैठक

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों नरेंद्र सिंह तोमर और पीयूष गोयल के साथ बुधवार सुबह से बैठक का एक और दौर आयोजित कर रहे हैं ताकि किसानों की मांगों को हल करने के लिए भविष्य के कदमों पर चर्चा की जा सके।

पूर्वाह्न करीब 11.30 बजे शुरू हुई इस बैठक में गृहमंत्री को तोमर और गोयल ने विज्ञान भवन में किसान नेताओं के साथ मंगलवार को हुई बैठक से अवगत कराया।

गुरुवार को 30 से अधिक यूनियनों के किसान नेताओं के साथ होने वाली चौथे दौर की वार्ता को लेकर सरकार की रणनीति भी बैठक में तैयार की जाएगी।

शाह, जिन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ अंतिम क्षण में मंगलवार की बैठक से दूर रहने का फैसला किया था, कृषि मंत्री तोमर और उपभोक्ता मामलों, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री गोयल के साथ मंगलवार की बैठक के दौरान किसानों संग हुई बातों और मांगों का जायजा लिया।

सूत्रों ने कहा कि शाह और उनके सहयोगी मंत्री सरकार की प्रतिक्रिया पर चर्चा करेंगे क्योंकि किसानों ने बैठक में किसान नेताओं द्वारा उठाए गए तीन विवादास्पद केंद्रीय कृषि बिलों और अन्य मुद्दों के अध्ययन और विश्लेषण के लिए एक समिति बनाने के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है।

यह पता चला है कि सरकार की मंशा गुरुवार की वार्ता में मुद्दों को हल करने की है।

बैठक की शुरुआत में शाह के सहयोगियों ने मंगलवार को 30 से अधिक किसान यूनियन नेताओं के एक समूह के साथ हुए तीन घंटे से अधिक लंबे संवाद पर प्रकाश डाला।

चूंकि मंगलवार की बैठक बेनतीजा रही, दोनों पक्षों के बीच चौथे दौर की वार्ता गुरुवार को होगी क्योंकि किसानों ने अपना विरोध जारी रखने और अपनी मांगों को पूरा नहीं होने तक आंदोलन तेज करने की घोषणा की है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button