झारखंड

रांची गोलीकांड के मृतकों के परिजनों से मिले असदुद्दीन ओवैसी

उन्होंने इस घटना पर अफसोस जताते हुए कहा कि आपके बच्चे वापस तो नहीं आ सकते, लेकिन दुःख की इस घड़ी में हम आपके साथ हैं

रांची : AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी रविवार को चुनावी दौरे के क्रम में रांची पहुंचे।

वे अपने कार्यक्रम के बाद चान्हो स्थित सैयद भाई के आवास पर रांची गोलीकांड में मारे गए दोनों मृतकों के परिजनों से भी मिले।

उन्होंने इस घटना पर अफसोस जताते हुए कहा कि आपके बच्चे वापस तो नहीं आ सकते, लेकिन दुःख की इस घड़ी में हम आपके साथ हैं।

यह लड़ाई लंबी है, हम इस लड़ाई में आपके साथ खड़े हैं। जहां भी मेरी जरूरत हो, हम वहां मौजूद रहेंगे, जब तक कि इंसाफ ना मिल जाए।

उन्होंने मृतक के परिजनों से गोलीकांड की पूरी जानकारी ली और कहा कि हम जल्द ही रांची आकर आप सबसे मुलाकात करेंगे।

कोर्ट में कौन लड़ रहा है?, इस बारे में भी उन्होंने बात की। उन्होंने कहा कि वे झारखंड हाईकोर्ट के सीनियर अधिवक्ता मुख्तार खान से भी बात करेंगे।

पुलिस प्रशासन ने ओवैसी को बीएनआर आने से मना कर दिया

उन्होंने यह भी जाना कि सरकार की तरफ से पीड़ित परिवार के लिए क्या घोषणा हुई और गोली चलाने वाले पुलिस कर्मियों पर क्या कार्रवाई हुई? साथ ही FIR की कॉपी और SIT की रिपोर्ट पर सवाल सवाल खड़ा करते हुए कहा कि यह तो एकतरफा कार्रवाई दिख रही है।

ज्ञात हो कि होटल बीएनआर चाणक्य (Hotel BNR Chanakya) में पीड़ित परिवार असदुद्दीन ओवैसी से मिलने का इंतजार कर रहे थे।

थोड़ी देर बाद मालूम हुआ कि पुलिस प्रशासन ने उन्हें बीएनआर आने से मना कर दिया है, तो एम आई एम, रांची महानगर अध्यक्ष मोहम्मद शाहिद अयूबी ने पीड़ित परिवार को लेकर चान्हो निकल गए और वहीं ओवैसी मुलाकात करवाई।

गौरतलब है कि असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) एक राजनीतिज्ञ होने के साथ-साथ बैरिस्टर के रूप में भी कानून के एक अच्छे जानकार भी माने जाते हैं।