दरभंगा पार्सल ब्लास्ट : जांच के लिए दरभंगा स्टेशन पहुंची NIA की टीम

दरभंगा: दरभंगा पार्सल ब्लास्ट मामले की जांच कर रही एनआईए की सात सदस्य टीम एक बार पुनः सोमवार को दरभंगा स्टेशन पहुंची।

इस दौरान एनआईए टीम ने प्लेटफार्म नंबर एक स्थित दरभंगा हॉल में ब्लास्ट के समय मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों, दुकानदारों और दूसरे अन्य लोगों के बयान दर्ज किया।

एनआईए टीम के साथ दरभंगा स्टेशन पर तैनात आरपीएफ और जीआरपी के अधिकारी भी मौजूद रहे। साथ ही इस कांड के अनुसंधानकर्ता दरभंगा जीआरपी प्रभारी हारुन रशीद ने भी अपनी गवाही दर्ज कराई।

हालांकि, इस मामले में एनआईए या दरभंगा स्टेशन पर मौजूद पुलिस के किसी भी अधिकारी ने कोई आधिकारिक जानकारी साझा नहीं की है।

दरभंगा ब्लास्ट मामले में गवाही देने आए चाइल्ड लाइन के सदस्य हिमांशु शेखर ने बताया कि एनआईए प्लेटफार्म नंबर एक पर मौजूद लोगों से घटना के बारे में जानकारी ले रही है।

उन्होंने बताया कि गवाही देने वालों में चाइल्ड लाइन के सदस्य, पार्सल घर के कर्मी, कुछ वेंडर और जीआरपी व आरपीएफ के जवान शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि विगत 17 जून को दरभंगा रेलवे स्टेशन पर हुए पार्सल ब्लास्ट मामले की जांच की जिम्मेदारी एनआईए को मिली है।

इससे पहले मामले की जांच करने पहली बार विगत 25 जून को एनआईए की टीम दरभंगा स्टेशन पहुंची थी।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button