भौगोलिक संकेतों पर चीन-यूरोप समझौता हुआ प्रभावी

बीजिंग : 1 मार्च से चीन और यूरोप के बीच हस्ताक्षरित भौगोलिक संकेतों पर चीन-यूरोप समझौता औपचारिक रूप से प्रभावी हो गया है।

इसमें दोनों पक्षों के 275 भौगोलिक संकेत वाले उत्पाद हैं, जिनमें शराब, चाय, कृषि उत्पाद और खाद्य पदार्थ आदि शामिल हैं।

विशेषज्ञों का मानना है कि यह समझौता चीन और यूरोप के उद्यमों के लिए और अधिक निवेश के मौके दे सकेगा, साथ ही उपभोक्ताओं की उच्च गुणवत्ता वाले आयातित उत्पादकों की मांग को भी पूरा कर सकेगा।

आंकड़े बताते हैं कि 2020 में चीन यूरोपीय संघ का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदारी बन गया। चीन और यूरोपीय संघ के बीच व्यापारिक रकम में 4.9 प्रतिशत का इजाफा हुआ, जो 6.495 खरब डॉलर तक पहुंची थी।

चीन के प्रति यूरोपीय संघ का प्रत्यक्ष निवेश 5.7 अरब डॉलर था, जबकि यूरोप के प्रति चीन का सीधा निवेश 4.7 अरब यूएस रहा।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button