कोयला तस्करी : CBI ने चार जगहों पर की छापेमारी

कोलकाता: पश्चिम बंगाल के कोयलांचल क्षेत्रों समेत झारखंड के कोयला खदान वाले इलाके में गैरकानूनी तरीके से करोड़ों रुपये की कोयले की चोरी और तस्करी के मामले की जांच कर रही केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की टीम ने कोलकाता समेत राज्य के चार ठिकानों पर छापेमारी की है।

जांच एजेंसी के सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि कोलकाता के साथ-साथ पश्चिम बर्दवान के ठिकानों पर तलाशी अभियान चलाए जा रहे हैं।

जयश्री ग्रुप नाम के एक कारोबारी समूह के ठिकानों पर छापेमारी हो रही है। यह समूह कोयला तस्करी के सरगना अनूप मांझी उर्फ लाला से कोयले की खरीद करता था।

सीबीआई सूत्रों के अनुसार जयश्री ग्रुप के प्रमुख अनूप अग्रवाल उर्फ ​​सोनू की तलाश की जा रही है।

सोनू अपने जयश्री स्टील प्लांट प्राइवेट लिमिटेड के लिए लाला से बड़ी मात्रा में कोयला खरीदता था। मंगलवार को सीबीआई ने अनूप अग्रवाल के दो घरों पर छापेमारी की।

एक कोलकाता के शेक्सपियर स्ट्रीट और दूसरा बराकर स्थित उनके घर पर छापेमारी की गई है। वहीं, सीबीआई दुर्गापुर में सोनू के दफ्तर भी पहुंची है।

सोनू का नाम लाला की गतिविधियों की निगरानी के दौरान जांचकर्ताओं के हाथ में लगा है। सीबीआई इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही थी कि लाला तस्करी के जरिये कोयला किसे बेचता था।

बता दें कि सोमवार को ही कोयला तस्करी के मामले में सीबीआई ने सीएम ममता बनर्जी के भतीजे सांसद अभिषेक बनर्जी की साली मेनका गंभीर, उनके पति और ससुर से पूछताछ की थी।

सूत्रों के अनुसार सीबीआई जानकारी हासिल कर रही है कि एक साल में सोनू कितना कोयला खरीदता था, कितने पैसे में खरीदता था, लाला से किस तरह से संपर्क में आया था। सीबीआई इन सभी सवालों के जवाब तलाश रही है

। साथ ही यह भी देखा जा रहा है कि उसके घर या कार्यालय से कोई दस्तावेज उपलब्ध है या नहीं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button