आंसू गैस के गोले दगें या लाठीचार्ज करें, पीछे नहीं हटेंगे किसान, राकेश टिकैत ने…

News Aroma Desk

Farmers Protest: आंदोलनरत किसानों के दिल्ली (Delhi) कूच को लेकर किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा है कि चाहे आंसू गैस के गोले दागे जाएं या लाठीचार्ज किया जाए, उन्हें करने दीजिए, वे पीछे नहीं हटेंगे, वे किसान हैं हम सब एक हैं।

हम किसानों की मांगें भी एक जैसी हैं। किसानों से बातचीत के जरिये ही समाधान निकलेगा। इसी के साथ टिकैत ने कहा कि हम सब किसान एक हैं, यदि जरूरत पड़ी तो हम भी आंदोलन में शामिल हो जाएंगे।

हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश (UP) से दिल्ली कूच की राह पर अड़े किसानों और पुलिस के बीच संघर्ष जारी होने के बीच किसान नेता Rakesh Tikait ने एक अहम बयान देकर सभी का ध्यान अपनी ओर खींच लिया है। किसान नेता Tikait ने कहा है कि हम सरकार से अनुरोध कर रहे हैं कि किसानों से वे बात करें, उन्हें रोकने की कोशिश नहीं करें।

ये समझ लें कि वे किसान हैं और हमारी सभी मांगें एक जैसी ही हैं। उन्होंने कहा, कि किसान कभी पीछे नहीं हटेंगे, आंदोलन बंद नहीं करेंगे. वे वापस नहीं जाएंगे। ऐसे में यदि जरुरत पड़ी तो हम भी आंदोलन में शामिल हो जाएंगे।

इस अवसर पर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा, कि हमारी MSP, स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट लागू करने समेत अनेक मांगें हैं, यदि भाजपानीत केंद्र सरकार किसानों का भला कर रही है तो MSP दे।

किसान नेता राकेश टिकैत ने बताया कि किसानों को रोकने से आंदोलन नहीं रुकेगा। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में अधिक संख्या में किसानों को गिरफ्तार किया गया है।

उन्होंने कहा कि गिरफतारी (Arrest) भी आंदोलन का ही हिस्सा होती है, लेकिन यदि वे किसानों को भड़काएंगे तो लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) पर इसका असर पड़ेगा और संपूर्ण देश में आंदोलन फैलेगा। गौरतलब है कि इससे पहले राकेश टिकैत ने अपने एक कथित बयान में किसान आंदोलन से खुद को अलग बताया था, जिसके बाद यह बयान आया है और उन्होंने आवश्यकता पड़ने पर आंदोलन में शामिल होने की बात कही है।

हमें Follow करें!