भाजयुमो नेता की इलाज के दौरान मौत, हत्या मामले में तीन गिरफ्तार

जमशेदपुर: पूर्वी सिंहभूम जिले के (जमशेदपुर ) के बागबेड़ा थानाक्षेत्र अंतर्गत हमले का शिकार हुए भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला महामंत्री सूरज कुमार की गुरुवार को अस्पताल में मौत हो गई।

वह लगभग 40 घंटे से जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे थे। मृतक सूरज कुमार का दाह संस्कार गुरुवार शाम पार्वती घाट पर किया गया। इस दौरान उनके परिवार के सभी सदस्यों के साथ दोस्त, रिश्तेदार, विभिन्न दलों के नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे।

दूसरी ओर इस घटना को अंजाम देने वाले तीन लोगों सोनू सिंह, कमल शर्मा के साथ एक नाबालिग युवक को पकड़ा है।

पुलिस पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि सूरज के साथ जमीन के मामले के लेकर विवाद चल रहा था। राजनीतिक दल में अहम जिम्मेदारी मिलने के बाद अक्सर इन लोगों के बीच टकराव की स्थिति बनती रहती थी।

आरोपितों ने बताया कि सूरज उनके हर काम में बाधा पैदा कर रहा था। लिहाजा इन लोगों ने उसकी हत्या की योजना बनाई। बीते सात दिसंबर को रात करीब 10 बजे हरहरगुट्टू पुराना बाजार के पास इन लोगों ने सूरज पर भुजाली, चापड़ और चाकू से हमला किया।

घटना के तत्काल बाद घायल को स्थानीय लोगों ने अस्पताल पहुंचाया। इलाज के बावजूद उसकी जान नहीं बच सकी। इस मामले में विजय कुमार की तरफ से पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया गया था।

घटना को अंजाम देने के कुछ घंटों के बाद मुख्य आरोपी सोनू सिंह ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। इसकी निशानदेही पर घटना में शामिल दो और लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस को इन आरोपियों के पास से धारदार खून लगा चापड़, एक खून लगी भुजाली, दो बड़े चाकू, दो मोटरसाइकिल तथा घटना के दौरान पहना गया कपड़ा बरामद कर लिया है।

मामले की जांच के लिए जमशेदपुर एसएसपी की तरफ से सात सदस्यों की टीम बनाई गई थी।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button