झारखंड

ट्रेन की चपेट में आने से जामताड़ा में होमगार्ड जवान की मौत

जामताड़ा:  जिले में एक होमगार्ड जवान की मौत (Home Guard Jawan Death) ट्रेन की चपेट में आने से हो गई। घटना जामताड़ा रेलवे साइडिंग की है। जवान कोयला चोरी रोकने के लिए ड्यूटी पर तैनात था।

बताया जाता है कि होमगार्ड जवान उदित सिंह बीते एक महीने से नाइट ड्यूटी कर रहे थे। रेलवे साईडिंग से रेलवे रैक में ट्रेन लोड हो जाने के बाद जिसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी RPF की होती है, उसके लिए होमगार्ड के जवान को ड्यूटी पर लगाया गया था।

इसी दौरान रविवार सुबह कोयला चोरी करने पहुंचे सैकड़ों की संख्या में कोयला चोर को रोकने के लिए जवान ने उन्हें खदेड़ा। इसी बीच ट्रेन की चपेट में आने से उनकी मौत हो गई।

प्रतिदिन 300 से 400 संख्या में कोयला चोरी

होमगार्ड जवान अपने साथी होमगार्ड जवान उदित सिंह के परिजनों के लिए उचित मुआवजा और एक सरकारी नौकरी देने की मांग कर रहे हैं। होमगार्ड के जवानों का कहना है कि इतने बड़े रेलवे साइडिंग में होमगार्ड जवान को सुरक्षा के लिए लगाया गया है।

कोई सुविधा नहीं दी गई है। करीब 300 से 400 संख्या में प्रतिदिन कोयला चोर रेलवे साइडिंग में कोयला चोरी करने पहुंचते हैं। घटना के दिन होमगार्ड जवान को रात में कोयला चोरी (Coal Theft) रोकने के लिए सुरक्षा में लगाया गया था। सुबह कोयला चोरी करने पहुंचे कोयला चोरों को खदेड़ने के क्रम में ट्रेन की चपेट में आ गया और उसकी मौत हो गई।

x