झारखंड

झारखंड कैबिनेट की बैठक में CM ने राज्यकर्मियों को दिया होली का तोहफा

झारखंड सरकार ने होली के ठीक पहले राज्यकर्मियों के महंगाई भत्ते (Dearness Allowance) में 4 प्रतिशत की वृद्धि की है।

4% Increase DA of state Employees: झारखंड सरकार ने होली के ठीक पहले राज्यकर्मियों के महंगाई भत्ते DA (Dearness Allowance) में 4 प्रतिशत की वृद्धि की है।

अब उन्हें 46 प्रतिशत की जगह 50 प्रतिशत Dearness Allowance देय होगा। यह वृद्धि 1 जनवरी, 2024 से प्रभावी होगी। इसका लाभ पेंशनधारियों और पारिवारिक पेंशन लाभार्थियों को भी होगा।

मंगलवार को मुख्यमंत्री Champai Soren की अध्यक्षता में आयोजित कैबिनेट की बैठक में इससे संबंधित प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। कैबिनेट ने कुल 30 फैसलों पर मुहर लगाई।

राज्य सरकार के कर्मचारियों और अधिकारियों के परिवहन भत्ते में भी बढ़ोतरी की गई है। झारखंड की पंचायतों में कार्यरत स्वयंसेवकों को अब पंचायत सहायक के नाम से जाना जाएगा और उन्हें प्रतिमाह 2,500 रुपये का मानदेय और स्टाइपेंड दिया जाएगा।

राज्य में कक्षा नौ से बारह तक के स्कूली बच्चों को पुस्तकों के लिए मिलने वाली राशि में भी बढ़ोतरी की गई है। अब उन्हें 750 रुपये के बदले 902 रुपये दिये जाएंगे। एक अन्य फैसले के अनुसार, नई दिल्ली के नए झारखंड भवन के निर्माण के लिए 105.29 करोड़ की राशि को स्वीकृति दी गई है।

राज्यकर्मियों को तोहफा

झारखंड कैबिनेट (Jharkhand Cabinet) से राज्यकर्मियों को भी तोहफा मिला है। कैबिनेट ने महंगाई भत्ते में बढ़ोत्तरी को स्वीकृति दी है। चार फीसदी की वृद्धि की गयी है। होली से पहले राज्य सरकार ने इन्हें सौगात दी है। राज्य कर्मियों को एक जनवरी की तिथि से चार प्रतिशत महंगाई भत्ता का लाभ दिया जाएगा। इसका लाभ पेंशनधारी और पारिवारिक पेंशन धारी को भी मिलेगा। पहले 46 प्रतिशत मिलता था। अब 50 प्रतिशत DA मिलेगा।

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में 11 नए तीर्थ स्थलों को मिली मंजूरी

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना को मंजूरी दी गयी है। इसके तहत 11 नए तीर्थ स्थल जोड़े गए हैं। राज्य के बाहर के 20 तीर्थ स्थानों को जोड़ा गया है। कैबिनेट ने एक प्रस्ताव को मंजूरी दी है। कैबिनेट की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में झारखंड के चम्पाई सोरेन ने कहा कि वे 1932 का खतियान व सरना धर्म कोड व आदिवासी-मूलवासी के मुद्दे झारखंड के लिए अहम हैं।

पाठ्यपुस्तकों की राशि में की गयी है वृद्धि

झारखंड के सरकारी स्कूलों की कक्षा नौवीं से बारहवीं के छात्रों को दी जानेवाली पाठ्यपुस्तकों की राशि में वृद्धि की गयी है। अब बच्चों को पुस्तक खरीदने के लिए 750 रुपये के बदले 902 रुपये दिये जाएंगे। मुसाबनी से ओडिशा बॉर्डर की सड़क के लिए 35 करोड़ की राशि की मंजूरी दी गयी है। दुमका में रानेश्वर पथ के लिए 65 करोड़ की राशि मंजूर की गयी है।

कैबिनेट ने सड़कों के लिए राशि की दी मंजूरी

मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत चतरा-रांची पथ के लिए कैबिनेट ने राशि की मंजूरी दी है। डीएवी पुंदाग से डीएवी हेहल तक फोर लेन सड़क के लिए राशि की मंजूरी दी है। प्रेझा फाउंडेशन द्वारा आठ नए राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज का संचालन किया जाएगा।

कैबिनेट के अन्य फैसले

  1. नई दिल्ली के नए झारखंड भवन के लिए 105.29 करोड़ की स्वीकृति दी गई है।
  2. ऊर्जा विभाग के प्रस्ताव पर चंदवा लातेहार के 400 केवी संचरण लाइन और पतरातू में 400 के बीच संरक्षण नहीं की चोरी हो जाने के बाद यह पूरे मामले के डिस्प्यूट को पीजीसीई और जेबीएसएनल से निपटारा के लिए उच्च स्तरीय कमेटी को देने का फैसला लिया गया है। साथ ही संचरण कार्य न रुके क इसके लिए पीजीसीआईएल को चार करोड़ रुपये देने की मंजूरी दी गई है।
  3. सरकारी स्कूल में अध्ययनरत कक्षा एक से दो और कक्षा तीन से चार बच्चों का मूल्यांकन होगा और उनके मूल्यांकन शिक्षक करेंगे और आठवीं से ऊपर का मूल्यांकन जैक करेगा।
  4. राज्य के लेवल-वन और लेवल-टू के कर्मियों के लिए परिवहन भत्ता 3,600 और महंगाई भत्ता और अन्य लेबल के कर्मियों के लिए 18 सौ रुपये के साथ महंगाई भत्ता दिया जायेगा।
  5. आठवें पॉलिटेक्निक खूंटी छात्र लोहरदगा हजारीबाग जामताड़ा गोंडा पालमपुर बगोदर को पैन आईटी से संचालित करने के लिए 77 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई।
  6. DAV पुनदाग से DAV हेहल तक 1.87 किलोमीटर रोड निर्माण कार्य के लिए 102 करोड़ 68 लाख 99 हजार मात्रा की प्रशासनिक स्थिति प्रदान करने की।
  7. राज्य के सरकारी सेवकों का आवास किराया भत्ता की अनुमान्यता की स्वीकृति दी गई।
  8. कोल्हान विश्वविद्यालय, चाईबासा अंतर्गत पश्चिमी सिंहभूम जिले के हाटगम्हरिया में डिग्री महाविद्यालय के निर्माण कार्य के लिए 36,64,47,000 रुपये की स्वीकृति दी गई।
  9. कोल्हान विश्वविद्यालय, चाईबासा अंतर्गत पश्चिमी सिंहभूम जिले के बंदगांव में डिग्री महाविद्यालय के निर्माण कार्य के लिए 39,07,85,000 रुपये की स्वीकृति दी गई।
  10. नीलाम्बर पीताम्बर विश्वविद्यालय, पलामू अंतर्गत गढ़वा जिले के मेराल में डिग्री महाविद्यालय के निर्माण कार्य के लिए 36,26,39,000 रुपये की स्वीकृति दी गई।
  11. कोल्हान विश्वविद्यालय, चाईबासा अंतर्गत पूर्वी सिंहभूम जिले के पोटका में डिग्री महाविद्यालय के निर्माण कार्य के लिए 39,94,08,900 रुपये की स्वीकृति दी गई।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker