झारखंड : साइबर अपराधी दे रहे थे ग्राहकों के मोबाइल नंबर से डाटा उड़ाने की ट्रेनिंग, एक गिरफ्तार

साइबर ठगी के धंधे में नौकरी दिलाने का भी आश्वासन देता था

देवघर: ओडिशा पुलिस ने संबलपुर के धनुपाली इलाके में निजामुद्दीन अंसारी नामक देवघर के एक साइबर ठग को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के अनुसार देवघर निवासी 27 वर्षीय निजामुद्दीन स्थानीय युवकों को अलग-अलग जगह बुलाकर उन्हें साइबर ठगी का प्रशिक्षण दे रहा था।

पिछले कुछ दिनों से वह धानुपाली के सरला गांव में ही अपने एक रिश्तेदार के घर रह रहा था।

स्थानीय युवकों को वह बताता था कि बैंक ग्राहकों से कैसे संपर्क कर उनसे फोन पर बैंक एकाउंट से जुड़ी गोपनीय जानकारियां हासिल की जा सकती हैं।

वहीं अन्य स्नोतों से भी ग्राहकों के मोबाइल नंबर व अन्य डाटा उड़ाने के भी गुर वह युवकों को सिखाता था।

साथ ही उन्हें साइबर ठगी के अलग-अलग तरीकों के बारे में वह लोगों को प्रशिक्षण दे रहा था।

प्रशिक्षण ले रहे युवकों को वह साइबर ठगी के धंधे में नौकरी दिलाने का भी आश्वासन देता था।

पुलिस को सूचना मिली थी कि साइबर ठग बुर्ला थाना अंतर्गत गोडभगा में नियमित रूप से अड्डा जमा रहे हैं।

इसके बाद बुर्ला थानेदार कमल कुमार पंडा ने छापेमारी कर निजामुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया, जबकि प्रशिक्षण ले रहे स्थानीय युवक फरार हो गए।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button