धनबाद में लोकसभा चुनाव के दौरान शुरू हुआ बीजेपी का अंतर्कलह अब और बढ़ा

News Desk

 

The internal conflict of BJP : लोकसभा  (Loksabha) चुनाव के दौरान शुरू हुआ धनबाद भाजपा में अंतर्कलह समाप्त होता नहीं दिख रहा है, बल्कि अब तो यह और भी खुलकर सामने आने लगा है। इसका ताजा उदाहरण मंगलवार को धनबाद न्यू टाउन हॉल में आयोजित BJP के कार्यकर्ता सम्मान समारोह में देखने को मिला, जहां आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने धनबाद विधायक राज सिन्हा के

खिलाफ जमकर नारेबाजी कर प्रदेश अध्यक्ष के सामने ही विरोध जता दिया।
कार्यकर्ता इतने आक्रोशित थे कि प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी, धनबाद सांसद ढुल्लू महतो, पूर्व सांसद पशुपति नाथ सिंह सहित मंच पर उपस्थित अन्य भाजपा

पदाधिकारियों के समझाने के बावजूद भी शांत होने का नाम नहीं ले रहे थे। कार्यकर्ता लगातार धनबाद विधायक राज सिन्हा पर लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी कार्य करने का आरोप लगाकर उनके खिलाफ मुर्दाबाद जैसे नारे लगाकर उनका विरोध जताते दिखे। प्रदेश अध्यक्ष और धनबाद सांसद के काफी

समझाने के बाद कार्यकर्ता शांत हुए। दरअसल, आज धनबाद के न्यू टाउन हॉल में भाजपा ने अभिनंदन सह विजय संकल्प सभा एवं कार्यकर्ता सम्मान समारोह का आयोजन किया था। इसका प्रभारी विधायक राज सिन्हा को बनाया गया था।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने मीडिया से बातचीत में हेमंत सोरेन

सरकार पर बालू का अवैध खनन और उससे अवैध कमाई करने का आरोप लगाते हुए कहा कि हेमंत सोरेन जान-बूझकर बालू घाटों की नीलामी नहीं कर रहे हैं। क्योंकि, यदि बालू घाटों की नीलामी हो गई तो उससे आने वाली रकम सरकार के खजाने में जमा हो जाएगी, जो फिलहाल हेमंत सोरेन के घर की तिजोरी में जमा हो रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के अंदर होने वाले निर्माण कार्यों में लगने वाले बालू

को तो सरकार को फ्री कर देना चाहिए लेकिन सरकार अवैध वसूली करने के चक्कर में राज्य के अंदर ट्रैक्टरों से होने वाली बालू ढुलाई को तो पकड़ रही है

जबकि बालू जो हाइवा ट्रकों में भरकर राज्य से बाहर यूपी, बिहार, बंगाल आदि राज्यों में अवैध रूप से भेजा जा रहा है उस ओर देखती भी नहीं है। क्योंकि, इससे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को अवैध कमाई जो हो रही है।

हमें Follow करें!