गिरिडीह : शैलपुत्री स्टील प्लांट में संदिग्ध हालात में मजदूर की मौत

गिरिडीह: औद्योगिक क्षेत्र के अजीडीह स्थित शैलपुत्री स्टील प्लांट में संदिग्ध हालात में मजदूर की मौत हो गई।

शुक्रवार देर रात को हुई घटना की जानकारी दूसरे दिन शनिवार को मिलने के बाद मृतक मजदूर 46 वर्षीय चन्द्रिका यादव के भाई जवाहर लाल राय समेत कई परिजन पहुंचे।

इस दौरान महतोडीह पुलिस पिकेट के प्रभारी भी प्लांट पहुंचे और पूरे घटना की जानकारी ली।

प्लांट प्रबंधक की मानें तो घटना का कारण मृतक के द्वारा प्लांट के भीतर अत्यधिक शराब पीकर डांस करने से हुआ, जबकि मृतक के भाई जवाहर लाल राय ने मौत का आरोप शैलपुत्री प्लांट प्रबंधक पर लगाते हुए कहा कि मौत की जानकारी उन्हें भी नहीं है।

घटना के बाद जिस प्रकार से लापरवाही हुई, उसे स्पष्ट होता है कि प्लांट में कुछ हुआ।

क्योंकि, शुक्रवार को विश्वकर्मा पूजा रहने के बाद भी मृतक प्लांट में ही था लेकिन प्लांट में क्यों था, यह उसे अब तक प्लांट प्रबंधन की और से जानकारी नहीं दिया गया है।

कई बार प्लांट मालिक से लेकर प्रबंधन से फोन कर जानकारी मांगने का प्रयास किया गया।

मृतक के भाई जवाहर लाल राय ने फैक्ट्री प्रबंधक से भाई के मौत के बाद 10 लाख के मुआवजे का मांग किया।

इधर, स्टील प्लांट के मालिक राकेश बरनवाल ने दावा किया कि मजदूर की मौत को लेकर सारा विवाद का निपटारा हो चुका है।

यही नहीं मृतक के परिजनों को उचित मुआवजा भी दिया जा चुका है। लिहाजा, अब कोई विवाद नहीं है।

जानकारी के अनुसार मृतक चन्द्रिका यादव बिहार के आरा जिले का रहने वाला था। वह करीब तीन सालों से शैलपुत्री स्टील में काम कर रहा था।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button