झारखंड

बहुमंजिली इमारतों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की जांच के लिए 6 वकीलों की बनी कमेटी, हाई कोर्ट ने…

झारखंड हाई कोर्ट (Jharkhand High Court) में रांची के जलस्रोतों के संरक्षण एवं रांची के तीन डैम की साफ सफाई और उसे अतिक्रमण मुक्त करने को लेकर कोर्ट के स्वत संज्ञान की सुनवाई गुरुवार को हुई।

Jharkhand High Court : झारखंड हाई कोर्ट (Jharkhand High Court) में रांची के जलस्रोतों के संरक्षण एवं रांची के तीन डैम की साफ सफाई और उसे अतिक्रमण मुक्त करने को लेकर कोर्ट के स्वत संज्ञान की सुनवाई गुरुवार को हुई।

सुनवाई के दौरान कोर्ट में रांची के बहुमंजिली इमारतों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम (Rain Water Harvesting System) की जांच के लिए छह अधिवक्ताओं की कमेटी बनाई है।

अधिवक्ताओं की यह कमेटी रांची नगर निगम (Ranchi Municipal Corporation) के तीन अभियंताओं के साथ मिलकर इसकी जांच करेगी की जिन बहुमंजिला इमारतो में Rainwater Harvesting लगे होने का दावा रांची नगर निगम कर रही है, वह मेंटेन होता है या नहीं। रेनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम चालू हालत में है या नहीं। अधिवक्ताओं की कमेटी इसकी जांच कर कोर्ट को रिपोर्ट सौंपेगी।

पिछली सुनवाई में रांची नगर निगम की ओर से अधिवक्ता एलसीएन शाहदेव ने कोर्ट को बताया गया था कि राजधानी रांची के 710 बहुमंजिला इमारतों में से 648 बहुमंजिला इमारतों में Water Harvesting किया जा चुका है।

जिस पर कोर्ट ने उनसे पूछा था कि जिन बहुमंजिला इमारतों में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बना है। वह Maintain होता है या नहीं। कोर्ट ने यह भी पूछा था कि पुनदाग, कटहल मोड आदि इलाकों में बहुमंजिला इमारतों एवं अन्य भवनों में वाटर हार्वेस्टिंग की गई है या नहीं।

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker