गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ आपराधिक मुकदमा दायर करें: सुप्रियो भट्टाचार्य

रांची: झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) ने कहा है कि भाजपा से गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे का जो ट्वीट आया है, वह भारतीय लोकतांत्रिक सिस्टम, कार्य पालिका पर आघात है।

झामुमो महासचिव सह प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने शनिवार को कहा कि एडीजी का नाम लेकर भाषा जिस तरह था, क्या राजनीति की पराकाष्ठा है।

धमकी दे रहे हैं कि हम आपके साथ जो चाहे कर सकते हैं। किसी अधिकारी को दिल्ली में बैठाने की धमकी दे रहे हैं।

दो दिन पूर्व राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास का बयान आता है। कहते हैं कि आप लोग हेमंत सरकार के चक्कर में ना पड़े।

2024 में आप भले ही रिटायर हो जाएं लेकिन उसके बाद कार्रवाई आप पर की जा सकती हैं। इस प्रकार कार्यपालिका को धमकी देंगे। केंद्र में आप की सरकार है। 303 का जो दम है। इतना सिर पर चढ़ गया है।

उन्होंने कहा कि इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को संज्ञान लेना चाहिए। फेडरल सिस्टम को बुलडोज कर देना चाहते हैं तो अलग बात है। आप हमें वैक्सीन नहीं दे रहे हैं, हमारे वैक्सीनेशन सेंटर बंद हो रहे हैं। बकाया पैसा नहीं देते हैं।

पारा टीचरों का मानदेय काट लेते हैं। डेढ़ वर्ष से जीएसटी का पैसा नहीं दे रहे हैं। अब आप धमकी दे रहे हैं, ये चीजें स्वस्थ लोकतंत्र के लिए उचित नहीं है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार और पुलिस महकमे को स्वतः संज्ञान लेना चाहिए। यहां तक कि हाईकोर्ट को भी सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री के खिलाफ उनका जो बयान आया है उस पर आपराधिक मुकदमा दायर करे।

धमकी देने का आरोप लगा है जो संवैधानिक धारा है। उन्होंने कहा कि कल हमसे बिना पूछे राष्ट्रपति शासन लगा देंगे, कल सेना के हवाले कर देंगे, लोकतंत्र इसे नहीं कहते।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button