लोन देने के नाम पर 800 महिलाओं को बनाया ठगी का शिकार, माइक्रोफाइनेंस कंपनी ने…

News Aroma Desk

Microfinance Company Fraud of Loan: लोन देने के नाम पर झारखंड के गुमला जिले के विभिन्न प्रखंडों की लगभग 800 महिलाओं को एक माइक्रोफाइनेंस कंपनी (Microfinance Company) ने ठगी का शिकार बनाया है।

बताया जाता है कि कुल 10 से 12 लोगों ने मिलकर इस पूरी ठगी (Fraud ) को अंजाम दिया। सभी महिलाएं गुमला जिले से हैं।

मामला प्रकाश में आने के बाद सिसई, बसुआ, अंबुवा, विशुनपुर, बसिया, छोटा खटंगा, टोटो, डुमरडीह समेत अन्य स्थानों के ग्रामीण गुमला थाना पहुंच कर लिखित आवेदन देकर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

1 घंटे तक टावर चौक जाम

थाना में आवेदन सौंपने के बाद ठगी से आक्रोशित ग्रामीण टावर चौक को जाम करने पर उतर गए। इससे लगभग एक घंटे तक टावर चौक जाम रहा। जिससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

जानकारी के अनुसार Micro Finance Company के 10-12 लोगों की टीम ने जिले के विभिन्न प्रखंड के महिला मंडल को लोन के लिए 3050 रुपया अकाउंट खोलने के नाम पर लिए। ठगों ने अपना ऑफिस गुमला के सरना टोली में बताया था।

ठगी करने वाले सभी आरोपी फरार

महिलाओं को बताया गया था कि अकाउंट खोलने के बाद सभी को सरना टोली बुला कर लोन दिया जाएगा। विभिन्न प्रखंडों के 800 महिलाओं से Account खुलवाने के नाम पर पैसे ऐंठने के बाद कर्मी फरार हो गए। MSM Micro Finance लि. के नाम पर महिलाओं से ठगी करने वाले सुमन कुमार सिंह, बिहार के सहरसा का रहने वाला है। उसके साथ और कोई लोग शामिल थे, जिनमें महिलाएं भी थी।

मंगलवार को जब महिलाएं पैसे लेने सरना टोली पहुंचे ,तो वहां ताला बंद पाया। तब उन्हे अहसास हुआ कि वे लोग ठगी के शिकार हो चुके है। सभी ग्रामीण लगभग 4.30 बजे DC कार्यालय आवेदन देने पहुंचे, पर DC के नहीं होने के बाद वे लोग गुमला थाना पहुंच कर लिखित आवेदन देकर कर कार्रवाई की मांग की।

हमें Follow करें!