झारखंड : हाई वोल्टेज तार टूटकर गिरा, चपेट में आने से महिला की मौत

दुमका: जिले के जामा थाना क्षेत्र के हेठ रंगनी गांव में ग्यारह हजार वोल्टेज हाई टेंशन तार की चपेट में आने से 50 वर्षीय महिला की दर्दनाक मौत हो गई।

मृतका की पहचान हेठ रंगनी गांव के समाजसेवी द्रोपदी देवी उर्फ धुरिया देवी की रूप में हुई है।

जानकारी के अनुसार द्रोपदी देवी उर्फ धूरिया देवी सुबह 8 बजे बांस काटने गयी थी। लेकिन दो घंटे तक नहीं आने पर घर वालों को चिंता हुई।

तभी पता चला कि बांस के ऊपर ग्यारह हजार हाई टेंशन का तार टूट कर गिर गया था और उसी जगह बांस काट रहे द्रौपदी देवी की जिंदा जल कर मौत हो गई है।

घर वालों के द्वारा तत्काल इसकी सूचना जामा थाना को दी गई।

घटना की सूचना मिलते ही घटनास्थल पर थाना प्रभारी जितेन्द्र कुमार सिंह एवं एसआई रवि शंकर सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे।

पुलिस मृतका का शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए फुलो-झानों मेडिकल कॉलेज अस्पताल, दुमका भेज दिया।

मृतका की पतोहू रूपा कुमारी ने बताया कि घर में शादी का कार्यक्रम था। मंडप के लिए बांस काटने के लिए गई थी।

तभी पहले से गिरा ग्यारह हजार हाई टेंशन तार के चपेट में आने उसकी सास की मौत हो गई।

परिजनों का कहना है कि बिजली विभाग की लापरवाही के कारण घटना घटित हुई।

पुलिस शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप यूडी केस दर्ज कर छानबीन में जुट गई है।

जेएमएम नेता राजेंद्र यादव एवं परिजनों का कहना है कि तीन चार दिन पहले ही हाई टेंशन तार टूट कर बांस पर अटका हुआ है, लेकिन ग्रामीणों को जानकारी नहीं थी।

बिजली विभाग की लापरवाही के कारण घटना घटित हुई है।

मामले को लेकर थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि थाना को सूचना मिली थी कि हेठ रंगनी गांव में एक महिला की मौत हाई टेंशन तार की चपेट में हो गया है।

पुलिस घटना स्थल से शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप यूडी केस दर्ज कर कारणों का पता लगाने में जुटी है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button