बाइक शोरूम में हुए चोरी कांड में 4 नाबालिग सहित 6 आरोपियों को पुलिस ने दबोचा

News Aroma Desk

Khunti Second Hand Bike Showroom Theft: खूंटी शहर के साहू तालाब के सामने Main Road किनारे स्थित ए टू जेड नामक सेकंड हैंड बाइक शोरूम में छह दिन पूर्व हुई चोरी (Theft) की घटना में शामिल चार नाबालिग सहित छह लोगों को पकड़ कर पुलिस ने मामले का खुलासा कर लिया है।

पकड़े गए आरोपितों में खूंटी बड़ाईक टोली निवासी सन्नी कुमार तथा कर्रा रोड नावा टोली निवासी प्रेम कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि चार किशोरों को निरूद्ध किया गया।

गिरफ्तार आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने शोरूम से चोरी की गई चार महंगी केटीएम बाइक को अलग-अलग स्थानों से बरामद कर लिया। बरामद बाइकों में एक बाइक का पार्ट्स को खोलकर अलग-अलग कर दिया गया था।

यह जानकारी खूंटी SDPO वरूण रजक ने शुक्रवार शाम खूंटी थाना परिसर में आयोजित Press Conference में दी। SDPO ने बताया कि छह दिन पूर्व शनिवार की रात उक्त शोरूम का शटर तोड़कऱ कर चोरों ने दुस्साहसिक ढंग से चोरी की घटना को अंजाम दिया था।

कांड की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक द्वारा खूंटी थाना प्रभारी पुलिस निरीक्षक मोहन कुमार के नेतृत्व में SIT का गठन किया था। एसआइटी टीम द्वारा तकनीकी अनुसंधान एवं गुप्त सूचना के आधार पर चोरों की तलाश की जा रही थी।

इसी दौरान शहर से सटे कुसुम टोली बस्ती में कुछ संदिग्धों द्वारा बाइक का पार्ट्स अन्यत्र ले जाने की सूचना पर टीम वहां पहुंची और बाइक के पार्ट्स के साथ उक्त संदिग्धों को पकड़कर जब उनसे कड़ाई से पूछताछ की गई, तो मामले का खुलासा हो गया।

बताया गया कि चोरी की इस घटना में शामिल एक अन्य घायल आरोपित के बारे में पुलिस को जानकारी मिल चुकी है कि वह किस अस्पताल में अपना इलाज कर रहा है।

जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बताया गया कि उसी रात शहर के अन्य तीन दुकानों में हुई सेंधमारी तथा इस घटना के तीन दिन बाद बाजार टांड़ की एक दुकान में हुई चोरी की घटना में चोरों का यह गिरोह शामिल नहीं था।

इससे आभास होता है कि चोरों का अन्य गिरोह भी शहर में सक्रिय है, जिसकी तलाश के लिए भी पुलिस छापामारी कर रही है। बताया गया कि पकड़े गए आरोपितों में से एक नाबालिग ने घटना के कुछ दिन पूर्व ही उक्त बाइक शोरूम से एक Second Hand Bike खरीदी थी, लेकिन बाइक पसंद न आने के कारण दो-तीन दिन बाद ही उसने वह बाइक वहां वापस कर दी थी।

बाइक वापस करने पर शोरूम संचालक द्वारा 20 हजार रुपये काटकर शेष राशि उसे वापस की गई थी। इसी खुन्नस में उसने अपने सहयोगियों से मिलकर चोरी की घटना को अंजाम दिया।

हमें Follow करें!

x