सरयू राय पर सरकारी दस्तावेज गायब करने का आरोप निकला सही, DSP की जांच में…

Digital Desk

Allegation on Saryu Ray : हटिया DSP की जांच में जमशेदपुर (Jamshedpur) पूर्वी विधानसभा से निर्दलीय विधायक सरयू राय (Saryu Ray) पर सरकारी दस्तावेज (Government Documents) गायब करने के लगे आरोप सही पाए गए हैं।

जांच के बाद DSP ने अपनी रिपोर्ट सिटी SP को भेज दी है। अब सिटी SP मामले की जांच कर आगे की कार्रवाई कर सकते हैं।

जानकारी के अनुसार, इस मामले में सरयू राय के खिलाफ Ranchi के डोरंडा थाने में FIR दर्ज की गई है।

सरयू के खिलाफ ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट के तहत FIR दर्ज की गई है। राज्य के स्वास्थ्य अवर सचिव की शिकायत पर 409, 379, 411, 120B और 420 IPC के तहत मामला दर्ज किया गया था।

सचिव की ओर से दर्ज कराई गई प्राथमिकी में विधायक पर विभाग से दस्तावेज गायब कराने का आरोप लगा था।

दर्ज प्राथमिकी के बाद हटिया DSP को जांच के जिम्मेवारी दी गई थी।

सरयू राय की आई प्रतिक्रिया

इस मामले में अपनी प्रतिक्रिया देते हुए सरयू राय का कहना है कि DSP ने उन पर लगे आरोप को सही ठहराया है। इसकी जानकारी उन्हें है।

अभी सिटी SP और SSP के पास फाइल जाएगी। इस मामले को वह टेस्ट केस के रूप में देख रहे हैं।

ऐसे उन्हें उनके अधिवक्ताओं ने सलाह दी है कि वे हाईकोर्ट जाएं। तुरंत मामला रद्द हो जाएगा। यह देखना चाह रहे हैं कि पुलिस के आलाधिकारी किस तरह से अनुसंधान करते हैं। इसके बाद ही वे आगे कदम उठाएंगे।

DSP के बारे में सरयू ने कहा…

राय ने X पर लिखा, ‘DSP बदले,नजरिया बदल गया। वही DSP हैं जिन्होंने बरहरवा मामले मे ED द्वारा गिरफ्तार मंत्री आलमगीर आलम (Alamgir Alam) को 24 घंटे मे क्लीन चिट दी थी।

साहेबगंज की रूपा टिर्की मौत मामले में लीपापोती की था। इनसे ईडी पूछताछ कर चुकी है। DSP के मंतव्य को वरीय पुलिस अधिकारी जांचेंगे।’

हमें Follow करें!

x