एंटी क्राईम चेकिंग के दौरान गुमला में हथियार सप्लाई करने वाले गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार

गुमला: एंटी क्राईम चेकिंग के दौरान बिशुनपुर पुलिस ने बुधवार को उग्रवादियों को हथियार सप्लाई करने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने इनके पास से एक लोडेड देसी कट्टा (पिस्टल), तीन इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर और दो जिंदा गोली बरामद किया है।

इस संबंध में गुमला के एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल ने बिशुनपुर थाना में आयोजित प्रेसवार्ता में पुलिस की सफलता की जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार सदस्यों में सुरेंद्र उरांव, दुर्गा उरांव और पिंटू उरांव शामिल हैं। लाल ने बताया कि इस क्षेत्र में सक्रिय उग्रवादी संगठन झांगुर गिरोह के सुप्रीमो रामदेव उरांव के लिए ये लोग हथियार सप्लाई का काम करते थे।

गिरफ्तार दुर्गा उरांव ने पुलिस को बताया कि उसका बड़ा भाई संजय उरांव हिंदपीढ़ी रांची में रहता है और छांगुर गिरोह के सुप्रीमो रामदेव उरांव के लिए हथियार एवं विस्फोटक पदार्थ पहुंचाने का काम करता है।

उसने यह भी बताया कि झांगुर गिरोह के सुप्रीमो रामदेव उरांव ने हम लोगों के नाम से बाइक खरीद कर दिया है और देसी कट्ठा हम लोगों की अपनी सुरक्षा के लिए दिया था।

ताकि हम लोग नि: संकोच झांगुर गिरोह के लिए हथियार सप्लाई का काम अच्छी तरह से कर सके। लाल ने कहा कि गिरोह का सरगना रामदेव उरांव भी शीघ्र पुलिस के गिरफ्त में होगा।

उन्होंने कहा कि थाना प्रभारी सदानंद सिंह के निर्देश पुलिस अवर निरीक्षक घनश्याम कुमार रवि के नेतृत्व में कृषि विज्ञान केंद्र विकास भारती बिशुनपुर के समीप घाघरा नेतरहाट मुख्य मार्ग पर वाहन जांच किया जा रहा था। तभी घाघरा की ओर से एक बाईक आता दिखा।

उसपर तीन लोग सवार थे। ये लोग पुलिस को देख कर भागने का प्रयास करने लगे। तभी पुलिस ने खदेड़ कर तीनों को पकड़ लिया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button