रांची सहित प्रदेश के 50 शहरी निकायों की सड़कों और बस्तियों में अब नहीं दिखेगा अंधेरा

रांची: रांची सहित प्रदेश के 50 शहरी निकायों की सड़कों और बस्तियों में अब अंधेरा नहीं दिखेगा। एक सप्ताह के अंदर सभी खराब लाइट बदले जाएंगे।

राज्य के नगर विकास एव आवास विभाग के सचिव विनय कुमार चौबे ने इइएसएल (एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड) को सख्त निर्देश दिया है कि सभी निकायों में खराब लाइट और स्वीच को अविलंब बदलें।

पुरानी शिकायतों का त्वरित निराकरण करते हुए नयी शिकायत का 48 घंटे के अंदर निराकरण करें। सचिव सोमवार को नगर निकायों के साथ ऑनलाइन बैठक में बोल रहे थे।

दरअसल विभाग की ओर से शहरी निकायों में इइएसएल (एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड) द्वारा लगाए गए एलईडी स्ट्रीट लाइट की समीक्षा पर ऑनलाइन बैठक का आयोजन किया गया था। समीक्षा बैठक के दौरान कई निर्देश दिये गए।

इसमें सेवा में आनेवाली शिकायतों का ऑनलाइन मॉनिटरिंग डेस्क बनें और शिकायत से लेकर निराकरण तक इस डेस्क से अपडेट मिलते रहे। इसके साथ ही किसी भी खराबी को 48 घंटे में दुरुस्त करना सुनिश्चित किया जाय।

निर्गत संकल्पों के आलोक में संबंधित निकायों द्वारा अबतक किए गए एकरारनामा की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गयी तथा आवश्यक निर्देश दिया गया।

संबंधित संकल्प में स्वीकृत एलइडी लाइट के विरुद्ध अधिष्ठापित लाइट की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गयी और बाकी बचे लाइट को जल्द से जल्द अधिष्ठापित करने का निर्देश दिया गया।

इसके साथ ही खराब लाइट और स्वीच को एक सप्ताह में बदलनें का निर्देश दिया गया।

निकायों द्वारा इइएसएल (एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड) विपत्र भुगतान की अद्यतन स्थिति आदि की समीक्षा की गयी।

सचिव ने निर्देश दिया कि जो काम हो गया है और कंपनी ने जो भुगतान विपत्र निकायों को सौंपा है, अगर कोई समस्या नही है तो भुगतान करें।

इइएसएल (एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड) के प्रतिनिधी ने विभागीय सचिव को आश्वस्त किया कि जुलाई महीने से रांची एवं लातेहार नगर निकाय में ऑनलाइन स्वीच ऑन और स्वीच ऑफ की व्यवस्था शुरु होगी।

एक ही बार में पूरे शहर की बिजली सेंटरलाइज्ड सिस्टम से ऑन और ऑफ होगी।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button