15 दिसंबर से शुरू हो रहा विंटर सेशन, विपक्ष बना रहा विपक्ष को घेरने की रणनीति

दूसरी ओर विपक्ष की ओर से सत्ता पक्ष को घेरने की तैयारी की गई है। इस शीतकालीन सत्र में छह कार्यदिवस होंगे, जिसमें सरकार की ओर से कई बिल भी सदन के पटल पर लाने की तैयारी की गई है

News Aroma

Ranchi Jharkhand Assembly Winter Session: झारखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र (Winter Session) 15 दिसंबर से शुरू हो रहा है। सदन की कार्यवाही शांतिपूर्ण संचालित करने के लिए जहां एक तरफ तैयारी पूरी की जा रही है।

दूसरी ओर विपक्ष की ओर से सत्ता पक्ष को घेरने की तैयारी की गई है। इस शीतकालीन सत्र में छह कार्यदिवस होंगे, जिसमें सरकार की ओर से कई बिल भी सदन के पटल पर लाने की तैयारी की गई है।

विधानसभाध्यक्ष (Speaker of the Assembly) ने 14 दिसंबर को शीतकालीन सत्र को लेकर हाई लेवल बैठक बुलाई है, जिसमें सदन की कार्यवाही को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष के नेताओं के साथ-साथ राज्य के आला अधिकारी मौजूद रहेंगे। यह पहला मौका होगा जब नेता प्रतिपक्ष भी पंचम विधानसभा के इस सत्र के बैठक में मौजूद रहेंगे।

शीतकालीन सत्र के दौरान सरकार को घेरने की तैयारी में जुटी प्रमुख विपक्षी दल भाजपा ने अपने विधायक दल की बैठक 14 दिसंबर को शाम सात बजे बुलाई है। इस बैठक में पार्टी द्वारा रणनीति बनाई जायेगी।

बालमुकुंद सहाय ने कहा…

जानकारी के मुताबिक शीतकालीन सत्र में भारतीय जनता पार्टी के द्वारा कांग्रेस सांसद धीरज साहू के घर आईटी रेड में मिले भारी भरकम राशि का मुद्दा भी सदन में उठाया जायेगा।

भाजपा लगातार इस मामले में सांसद धीरज साहू पर कार्रवाई करने की मांग कर रही है और इस बहाने कांग्रेस पर हमला बोलने में जुटी है। भाजपा प्रदेश महामंत्री बालमुकुंद सहाय (Balmukund Sahay) ने कहा कि IT की कार्रवाई के दौरान जिस तरह से कैश बरामद हुए हैं उससे साफ जाहिर होता है कि यह एक बड़ा मुद्दा है जिसे पार्टी प्रमुखता से रखने का प्रयास करेगी। इसके अलावा विपक्ष के द्वारा सरकार को भ्रष्टाचार, जनता से वादा खिलाफी सहित ऐसे कई मुद्दों पर घेरने की तैयारी की जा रही है।

इन सब के बीच सत्ता पक्ष की ओर से भी विपक्ष के हमले का माकूल जवाब देने के लिए तैयार रहने को कहा गया है।14 दिसंबर देर शाम सत्तारुढ दल के विधायक दल की बैठक होगी।

मुख्यमंत्री आवास पर होने वाली इस बैठक (Meeting) में विपक्ष की रणनीति को सफल करने के लिए पूरी तैयारी की जाएगी और सदन में आने वाले सवाल का जवाब देने के लिए मंत्रियों को विशेष रुप से टास्क दिया जायेगा।

हमें Follow करें!

x