कन्हैया कुमार और जिग्नेश मेवाणी 28 सितंबर को कांग्रेस में होंगे शामिल

नई दिल्ली: जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी के साथ 28 सितंबर को कांग्रेस में शामिल होंगे, भाकपा नेता और मेवाणी के करीबी सूत्रों ने इसकी पुष्टि की है।

कांग्रेस ने दोनों नेताओं के शामिल होने के दौरान वरिष्ठ नेता राहुल गांधी की मौजूदगी में इसे हाई प्रोफाइल इंडक्शन बनाने का फैसला किया है।

यह दिन शहीद भगत सिंह की जयंती का भी है। जबकि दोनों नेताओं ने अपने सेल फोन बंद कर दिए हैं और उनके करीबी लोगों के ही फोन यूज कर रहे हैं।

दोनों नेताओं ने हाल ही में राहुल गांधी से मुलाकात की थी और सूत्रों का कहना है कि इन नेताओं और कांग्रेस पार्टी के बीच बातचीत को अंतिम रूप दे दिया गया है।

कांग्रेस इन दोनों नेताओं को विधानसभा चुनाव से पहले और खासकर मेवाणी को गुजरात चुनाव से पहले भीड़ खींचने की क्षमता के लिए साथ लाना चाहती है।

मेवाणी गुजरात में निर्दलीय विधायक हैं और उन्होंने कांग्रेस के समर्थन से चुनाव जीता है।

अल्पेश ठाकोर, हार्दिक पटेल और मेवाणी की तिकड़ी 2017 के चुनावों में कांग्रेस के साथ थी, जब कांग्रेस ने अच्छा प्रदर्शन किया था, लेकिन चुनाव नहीं जीत सकी थी और अब कांग्रेस चुनाव से पहले मेवानी को शामिल करना चाहती है जबकि अल्पेश भाजपा में शामिल हो गए हैं।

कांग्रेस के सूत्रों का कहना है कि वह पहले भी राहुल गांधी से मिलते रहे हैं और पार्टी में शामिल होने का प्रस्ताव पिछले लोकसभा चुनाव से लंबित है।

सूत्रों ने यह भी बताया कि पूर्व में बातचीत के दौरान कन्हैया कुमार ने आंदोलन शुरू करने और फिर धीरे-धीरे इसे राष्ट्रीय स्तर पर ले जाने के लिए बिहार में काम करने के लिए अपनी टीम रखने पर जोर दिया था।

हाल के विधानसभा चुनावों में बिहार में कांग्रेस लगभग हार गई थी।

यह राजद के साथ गठबंधन में लड़ी गई 70 सीटों में से सिर्फ 19 सीटें जीतने में सफल रही और इसके प्रदर्शन को महागठबंधन की हार के कारणों में से एक माना गया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button