रांची में मेंटेनेंस तो बहाना है असल मकसद, बिजली के लिए लोगों को रुलाना है

रांची: गुरुवार को रांची के कई इलाकों में बिजली का आना-जाना लगा रहा। कुछ इलाका में घंटा-दो घंटा तो कहीं तीन-तीन घंटे पावर सप्लाई ठप रही।

इस कारण शहर के लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा। कहीं बच्चों की ऑनलाइन स्टडी पर असर पड़ा तो कहीं ठंड के मौसम में पानी गर्म नहीं होने पर कई लोग बगैर स्नान किए ही कार्यालय गए।

वहीं, जो बिजली आने का इंतजार करते रहे, वो देर कर गए। हालांकि, विभाग ने पावर कट की सूचना पहले ही दे दी थी।

इसके बावजूद लोगों को बिजली सप्लाई ठप होने से काफी समस्याएं हुईं। कई इलाकों के लोग बिजली का इंतजार ही करते रह गए और मार्केट या कार्यालय देर से पहुंचे।

क्या कहता है विभाग

अलग-अलग कारणों से शहर में बिजली सप्लाई बंद रही।

शाम सात बजे से शहर की बिजली सामान्य हो पाई। बिजली विभाग के मुताबिक, पेड़ों की डालियों की छंटाई के कारण 11 केवी हजारीबाग रोड फीडर एक घंटे के लिए बंद किया गया।

इस कारण दोपहर एक से दो बजे के बीच न्यू नगरा टोली, जेसी रोड और जेल रोड में बिजली सप्लाई बंद रही।

वहीं, 11केवी पथलकुदवा फीडर दोपहर दो बजे से तीन बजे तक बंद रहा। इस कारण पथलकुदवा, पीएन बोस कंपाउंड और पुरुलिया रोड में बिजली आपूर्ति बाधित रही।

शाम को मोरहाबादी में अंधेरा

न्यू मोरहाबादी फीडर में भी तार लगाने का काम चल रहा है।

इसके चलते इस इलाके में भी सुबह-शाम बिजली सप्लाई प्रभावित रही। शाम 5.30 बजे से सात बजे तक न्यू एरिया मोरहाबादी, टैगोर हिल रोड और सराईटांड़ इलाके में अंधेरा छाया रहा।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button