[the_ad id="326232"]
भारत

मुख्तार को सरकार और सरकारी मशीनरी ने साजिश रचकर मार डाला, भाई अफजाल ने लगाया आरोप

उत्तर प्रदेश (UP) के बाहुबली पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के परिजनों ने आरोप लगाया है कि मुख्तार अंसारी की मौत सामान्य मौत नहीं है।

Mukhtar Ansari : उत्तर प्रदेश (UP) के बाहुबली पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के परिजनों ने आरोप लगाया है कि मुख्तार अंसारी की मौत सामान्य मौत नहीं है।

परिजनों का आरोप है कि पूरी सरकार और सरकार की मशीनरी ने इस मामले में बहुत बड़ी साजिश रची है।

बता दें कि Mukhtar Ansari को शनिवार को सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी की तबीयत बहुत ज्यादा बिगड़ गयी थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गयी थी।

दावा किया गया कि मुख्तार अंसारी की मौत दिल का दौरा पड़ने के कारण हुई है। लेकिन, मुख्तार अंसारी के परिवार वालों का आरोप है कि मुख्तार अंसारी को जेल में Slow Poison दिया गया था। खुद मुख्तार अंसारी ने भी कोर्ट में आवेदन देकर बताया था कि उन्हें जेल में खाने में जहर दिया गया है।

भाई अफजाल अंसारी बोले- जेल में जहर देकर मारे जाने का पुख्ता सबूत देंगे

मुख्तार अंसारी की मौत को लेकर उनके भाई सांसद अफजाल अंसारी ने कुछ चौंकानेवाले दावे किये हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्तार की मौत Heart Attack से नहीं हुई, बल्कि उन्हें मारकर रास्ते से हटाया गया है। उन्होंने कहा कि सही वक्त आने पर वह इसके पुख्ता सबूत देंगे कि मुख्तार अंसारी को जेल में जहर देकर मारा गया है।

अफजाल अंसारी ने कहा कि 26 मार्च को मुख्तार को बांदा जेल से Medical college भेजा गया था। जब हम अस्पताल पहुंचे, तो हमें सिर्फ पांच मिनट ही मिलने दिया।

इस दौरान मुख्तार अंसारी ने कहा कि उनको जहर दिया गया था और इस वजह से वह बेहोश हो गये थे। मुख्तार ने बताया था कि वह बहुत तकलीफ में हैं।

मिट्टी देने के लिए अनुमति की जरूरत नहीं

बता दें कि मुख्तार अंसारी के जनाजे में बड़ी संख्या में उनके समर्थकों की भीड़ थी, जो मिट्टी देने कब्रिस्तान के अंदर जाना चाहती थी। दूसरी तरफ पुलिस प्रशासन ने सिर्फ परिवार के लोगों को ही कब्रिस्तान के अंदर जाने की इजाजत दी थी।

जब गाजीपुर DM ने अफजाल से अंदर जानेवाले लोगों पर बात की, तो तीखी बहस हो गयी। इस दौरान अफजाल ने गुस्से में कहा कि अगर दूसरे लोग भी मुख्तार के जनाजे को मिट्टी देने में शामिल होना चाहते हैं, तो उन्हें कोई नहीं रोक सकता।

अफजाल ने कहा कि आप चाहे कुछ भी हों, धार्मिक प्रयोजन के लिए या किसी को मिट्टी देने के लिए अनुमति की जरूरत नहीं होती है। इस पर DM ने कहा यहां धारा 144 लगी हुई है।

इसके बाद अफजाल अंसारी ने कहा कि जो भी मिट्टी देना चाहता है, वह दे सकता है, उसे कोई नहीं रोक सकता।

DM ने कहा कि ठीक है, सभी की Videography हो रही है, हम आप सभी के खिलाफ FIR दर्ज कर कार्रवाई करेंगे। DM के इस व्यवहार की सोशल मीडिया में जमकर आलोचना भी हुई।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker