जम्मू एयरफोर्स स्टेशन के करीब फिर दिखा ड्रोन, सुरक्षा बल सतर्क

जून में एयरफोर्स स्टेशन पर हमले के बाद से सातवीं बार देखे गए ड्रोन

नई दिल्ली: जम्मू एयरफोर्स स्टेशन के करीब बुधवार रात एकबार फिर ड्रोन देखे जाने की खबर है। इसके बाद सुरक्षा बलों ने सतर्कता और बढ़ा दी है।

मामले की पड़ताल की जा रही है और इससे संबंधित विस्तृत रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है।

इससे एकदिन पहले मंगलवार को भी जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा के करीब ड्रोन देखे जाने पर बीएसएफ के जवानों ने फायरिंग की जिसके बाद ड्रोन वापस पाकिस्तानी सीमा में चला गया।

बुधवार को बीएसफ ने बयान जारी कर कहा कि और 14 जुलाई की रात अरनिया सेक्टर में बीएसएफ जवानों ने लाल लाइट की ओर गोलीबारी की जिसके कारण वह लौट गया।

पिछले महीने जून में जम्मू के एयरफोर्स स्टेशन पर हुए ड्रोन हमले के बाद से सातवीं बार ड्रोन मंडराते देखे गए हैं।

पिछले महीने 26 जून को पाकिस्तान की सीमा से 14 किमी दूर स्थित हाई सिक्योरिटी वाले जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर हुए धमाकों में एयरफोर्स के दो जवान घायल हो गए थे।

इसके अगले दिन कालूचक सैन्य स्टेशन के ऊपर ड्रोन मंडराते देखे गए। इसके बाद 29 जून को भी जम्मू के तीन अलग-अलग स्थानों कुंजवानी, सुंजवां और कालूचक इलाके में ड्रोन देखे गए।

ड्रोन देखे जाने का सिलसिला जुलाई महीने के पहले सप्ताह में भी जारी रहा। 2 जुलाई को भी अरनिया सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास ड्रोन देखा गया।

ड्रोन के खतरे की बढ़ती चुनौतियों को देखते हुए एयरफोर्स स्टेशन पर एंटी ड्रोन सिस्टम लगाया गया है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button