पासपोर्ट के लिए पुलिस वेरिफिकेशन की अब नहीं चलेगी मनमानी, विदेश मंत्री ने…

News Aroma Desk

Foreign Minister Jaishankar Announced: पासपोर्ट बनाने में लोगों को कई सारी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। पासपोर्ट बनवाने में सबसे बड़ी दिक्कत पुलिस वेरिफिकेशन में आती है।

अब विदेश मंत्री जयशंकर (Foreign Minister Jaishankar) ने घोषणा की है कि पुलिस वेरिफिकेशन में नहीं चलेगी मनमानी। Passport बनवाना अब और आसान हो जाएगा। इसके लिए विदेश मंत्रालय राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की पुलिस के साथ मिलकर एक उपाय पर काम कर रहा है, जिससे कि लोगों को चंद दिनों में Passport मिल जाए।

सोमवार को पासपोर्ट सेवा दिवस के मौके पर विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि बेहतर Passport सेवा के लिए मंत्रालय ने 440 पोस्टऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्रों की स्थापना की है।

इसके अलावा 93 पासपोर्स सेवा केंद्र बनाएं हैं। देश में इस समय 533 पासपोर्स प्रोसेसिंग सेंटर और 37 रिजिनल Passport ऑफिस हैं। विदेश मंत्रालय ने विदेश में मौजूद 187 भारतीय मिशनों को भी इससे जोड़ा गया है।

पासपोर्ट बनवाने में सबसे बड़ी दिक्कत पुलिस Verification में आती है। इसमें काफी समय लगता है। कई बार तो पुलिस Verification के नाम पर आवेदकों को परेशान भी किया जाता है। ऐसे में विदेश मंत्रालय इस परेशानी को दूर करने में लगा है।

जयशंकर ने कहा कि पुलिस वेरिफिकेशन में तेजी लाने के लिए ‘एम पासपोर्ट पुलिस ऐप’ बनाया गया है। इससे 25 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 9 हजार पुलिस थानों को जोड़ा गया है।

साथ ही पेपेरलेस डॉक्यूमेंटेशन के लिए पासपोर्ट सेवा सिस्टम को DG लॉकर से जोड़ा गया है। इससे पुलिस वेरिफिकेशन का काम आसान हो जाएगा।

उन्होंने आगे कहा कि विदेश मंत्रालय ने बीते साल 2023 में पासपोर्ट से जुड़ी 1.65 करोड़ सेवाएं दीं। 2023 में मासिक पासपोर्ट आवेदन 14 लाख को पार कर गए थे। उन्होंने आगे कहा कि पासपोर्ट नागरिकों के विकास में अहम भूमिका अदा करते हैं। इससे देश के विकास पर सीधे असर पड़ता है।

हमें Follow करें!