जनवरी से केंद्र सरकार शुरू कर सकती है बूस्टर डोज

नई दिल्ली: अगले साल की शुरुआत में केंद्र सरकार कोरोना रोधी टीके की अतिरिक्त खुराक (बूस्टर डोज) लगाने की अनुमति दे सकती है।

शुक्रवार को संसदीय समिति की बैठक में भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद(आईसीएमआर) ने कोरोना रोधी की बूस्टर खुराक देने की बात कही है।

शुक्रवार को नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी के पॉल ने कहा कि ओमीक्रोन को देखते हुए बूस्टर डोज पर जल्दी ही कोई फैसला लिया जाएगा।

इस पर गंभीरता से विचार किया जा रहा है। माना जा रहा है कि दिसंबर के अंत तक हर घर दस्तक कार्यक्रम के तहत देश के अधिकांश लोगों को कोरोना रोधी टीके की पहली डोज देने के बाद सरकार बूस्टर डोज लगाने की शुरुआत कर सकती है।

आईसीएमआर ने संसदीय समिति की बैठक में कहा है कि टीकाकरण के नौ महीने बाद बूस्टर डोज दी जा सकती है। यानि जिन लोगों ने कोरोना के दोनों खुराक नौ महीने पहले ली थी वे अब अतिरिक्त खुराक ले सकते हैं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button