मंत्री मनसुख मंडाविया ने COVID की स्थिति पर 100 से अधिक डॉक्टरों के साथ चर्चा की

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने मंगलवार को देशभर के करीब 120 डॉक्टरों से बातचीत की और मौजूदा कोविड-19 स्थिति पर चर्चा की।

मंडाविया ने डॉक्टरों के साथ चल रही कोविड स्थिति पर वर्चुअल तरीके से चर्चा की और संक्रमण की निगरानी के लिए उनके सुझावों को सुनते हुए आवश्ंयक दिशा-निर्देश प्रदान किए।

मंडाविया ने एक ट्वीट में कहा, वीडियो कॉन्फ्रें सिंग के माध्यम से मौजूदा कोविड-19 स्थिति के बारे में देशभर के 120 विशेषज्ञ डॉक्टरों से चर्चा की। उनके सुझावों को सुना और संबंधित निर्देश दिए।

उन्होंने हिंदी में किए गए ट्वीट में आगे कहा, मुझे विश्वास है कि हम सब मिलकर कोरोना से लड़ने के लिए काम करेंगे।

स्वास्थ्य मंत्री ने सोमवार को छह पश्चिमी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड की स्थिति, सार्वजनिक स्वास्थ्य तैयारियों और कोविड के प्रबंधन की समीक्षा की थी।

मंडाविया ने सोमवार को महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, गोवा, दादरा और नागरा हवेली और दमन और दीव के स्वास्थ्य मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बातचीत करते हुए कहा, हमारी तैयारियों में कोई चूक न हो, क्योंकि हम महामारी के इस उछाल से लड़ रहे हैं।

केंद्र और राज्यों के बीच समग्र तालमेल निर्बाध और प्रभावी महामारी प्रबंधन के लिए सबसे महत्वपूर्ण है।

यह दोहराते हुए कि केंद्र कोविड के समर्थन में राज्यों को समर्पित है, मंडाविया ने कहा कि केंद्र सरकार ने देशभर में स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए ईसीआरपी-2 के तहत सहायता प्रदान की है और राज्यों से भौतिक बुनियादी ढांचे के मामले में मजबूत तैयारी करने का आग्रह किया है।

ईसीआरपी-2 के तहत अनुमोदित निधियों (अप्रूव्ड फंड्स) का कुशलतापूर्वक उपयोग करें।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button