पहाड़ पर ले जाकर की थी गाला दबाकर सीता की हत्या, रांची पुलिस ने किया प्रेमी को गिरफ़्तार

पहाड़ पर ले जाकर की थी गाला दबाकर सीता की हत्या, रांची पुलिस ने किया प्रेमी को गिरफ़्तार

न्यूज़ अरोमा रांची: रांची के सोनाहातु थाना पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए एक अपराधी को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार अपराधी का नाम शुभम सिंह मुंडा (25) बताया गया है। इसके निशानदेही पर जला हुआ बैग, जूता,समीज, पर्स, फ्रॉक सूट, सिंगार का डब्बा और टूटा हुआ दो मोबाइल फोन बरामद किया गया है।

ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने बुधवार को बताया कि 26 जून को कोटाब पहाड़ के पास से एक महिला का शव बरामद किया गया था।

शव की शिनाख्त सीता कुमारी( 22) के रूप में की गयी थी।

मृतका के घरवालों ने पूछताछ करने पर बताया गया कि उनकी बेटी तेतला निवासी शुभम सिंह मुंडा के साथ आदित्यपुर में रह रही थी।

संदेह के आधार पर शुभम सिंह मुंडा को रांची बुलाकर पूछताछ किया गया, तो उसने अपना अपराध स्वीकार करते हुए बताया कि मेरे और सीता के बीच प्रेम प्रसंग था। वर्ष 2018 में रांची में हम दोनों करीब 9 माह एक साथ रहे थे।

उसके बाद वर्ष 2019 जून-जुलाई से आदित्यपुर में पति-पत्नी के रूप में रह रहे थे।

।वर्ष 2020 के मई माह में वह आदित्यपुर छोड़ कर अपने घर तेतरा आ गया था और सीता वहीं पर रह रही थी।

जब मकान मालिक बार-बार सीता से किराए की मांग करने लगे तथा किराया नहीं देने पर घर खाली करने का दबाव देने लगे तो एक दिन सीता फोन कर बतायी कि वह मेरे गांव तेतला आ रही है।

15 जून को शाम करीब 6 बजे सीता सेरंगडीह मोड़ पहुंची तो वह उसे अपने घर ले गया।

सीता को घर ले जाने के बाद घरवाले काफी नाराज हुए और सीता को वापस उसके घर छोड़ने के लिए बोलने लगे।

तब वह अपने चाचा के खाली पड़े घर में ले जाकर सीता के साथ रहने लगे।

तीन-चार दिन तक घरवालों को समझाने का प्रयास किया लेकिन घर वाले नहीं माने। तब वह सीता को समझाने की कोशिश किया तो वह भी नहीं मानी और अपनी जिद्द पर अड़ी रही कि मैं यही रहूंगी।

तब मैंने सीता की हत्या करने का प्लान बनाया और बहाना बनाकर 20 जून की रात कोटाब पहाड़ में ले जाकर सीता की गला दबाकर हत्या कर दिया।

इसके बाद उसके जूते बैग में रखे सामानों को वहीं सोतिया के किनारे जला दिया और घर में रखे उसके कपड़े सिंगार के समान और टूटा हुआ दो मोबाइल को रूट में रखे धान में छुपा दिया।

पुलिस ने आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

एसपी ने बताया कि छापेमारी टीम में एसडीपीओ अजय कुमार सोनाहातु थाना प्रभारी मनोहर करमाली और दोल गोविंद महतो शामिल थे।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma