18 अक्टूबर से `लव यू दुल्हिन` में दिखेगा कोशी के कुसहा त्रासदी का दर्द

18 अक्टूबर से `लव यू दुल्हिन` में दिखेगा कोशी के कुसहा त्रासदी का दर्द

बेगूसराय : बिहार के शोक कोशी नदी से 2008 में कुसहा में मची त्रासदी को लेकर बनी फिल्म लव यू दुल्हिन 18 अक्टूबर को रिलीज हो रही है।

दो घंटा दस मिनट के इस फिल्म की 70 प्रतिशत शूटिंग बेगूसराय के सिमरिया गंगा घाट, बखरी एवं बेगूसराय शहर मुख्यालय के विभिन्न लोकेशन में पूरी की गई है।

जबकि, 30 प्रतिशत चिल्का झील में शूट किया गया है।

लव सांग्स के बाद भी साफ-सुथरा रहने के कारण हाल के दिनों में बनी यह पहली फिल्म है जिसे सेंसर बोर्ड ने यूए सर्टिफिकेट देकर सपरिवार देखने की स्वीकृति दिया है।

बड़े पर्दे पर कुशहा की त्रासदी की ह्रदय स्पर्शी दृश्य और उसमें पनपे प्यार और जज्बात की कहानी के अलावा ऐसे कई सामाजिक उथल पुथल को गहराई से फिल्माया गया है।

फिल्म के निर्माता और श्री राम जानकी फिल्म्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रजनीकांत पाठक ने मंगलवार को यहां बताया कि उत्तर बिहार की बड़ी त्रासदी कुशहा बाढ़ पर बनी यह फिल्म 18 अक्टूबर को दिल्ली के दो पीसीआर विकासपुरी एवं रोहणी प्रशांत विहार में लग रही है।

इसके बाद बिहार समेत देश के अन्य राज्यों में प्रर्दशित किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि मिथिला में बनी यह फिल्म एक ओर मिथिला के मैथिली पर एकाधिकार को समाप्त करने की कोशिश कर रही है।

तो वहीं शराबबंदी, शौचालय आदि पर व्यंग कर सरकार को आईना दिखा रही है। फिल्म में नेताओं के चरित्र, पति-पत्नी के बीच के नखरा, दूसरा विवाह प्रथा, बाढ़ की विभीषिका एवं वेदना को अपने कथा-पटकथा के साथ निदेशक मनोज श्रीपति ने बेहतरीन ढ़ंग से प्रस्तुत किया है।

मंत्री की भूमिका में जदयू जिलाध्यक्ष भूमिपाल राय और पत्रकार की भूमिका में प्रभाकर कुमार राय ने गजब की एक्टिंग किया है।

कैमरामैन अजीत दास ने सुकुमार मणि संकलित कहानी और अमिय कश्यप के साथ अभिनेत्री प्रतिभा पांडे एवं अनुश्री के एक्टिंग को लयबद्ध करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।

संगीतकार धनंजय मिश्रा, गीतकार सुधीर कुमार, विक्की झा, प्रकाश चंद्र एवं मनोज तथा गायिका कल्पना, इंदु सोनाली, विकास, आलोक एवं प्रियंका सिंह ने ‘चुनमुनियां तोहर चुनरी बवाल लागैय छौ’ एवं ‘बदनाम गली की एक कली आई जो शरीफों की बस्ती’ समेत आठ गानों का बेहतरीन संयोजन किया है।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma