शिवसेना में मुस्लिमों का भी स्वागत, हम मुस्लिम आरक्षण के पक्षधर: उद्धव ठाकरे

शिवसेना में मुस्लिमों का भी स्वागत, हम मुस्लिम आरक्षण के पक्षधर: उद्धव ठाकरे

मुंबई : महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव के बीच शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने देश में समान नागरिक संहिता कानून लागू करने और विशेष कानून बनाकर अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण की शुरुआत करने की मांग नए सिरे से बुलंद की है।

दशहरा के दिन स्थानीय शिवाजी पार्क में दशहरा रैली को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा शिवसेना में मुस्लिमों का स्वागत है। उन्होंने कहा कि हम मुस्लिम आरक्षण की समर्थन करते हैं।

उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान की भी परवाह नहीं की जिसमें पीएम मोदी ने राम मंदिर मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई जारी होने का हवाला देते हुए नेताओं को मंदिर-मस्जिद विवाद पर बयानबाजी से बचने की सलाह दी थी।

उद्धव ठाकरे ने कहा प्रधानमंत्री ने कहा राम मंदिर पर बयान न दें। कोर्ट में केस है, लेकिन हमारी मांग है कि विशेष कानून बना कर अयोध्या में भगवान श्रीराम का मंदिर बनाया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा हमने मंदिर बनाने का वचन दिया है, तो मंदिर बनाकर रहेंगे। राम मंदिर पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। राम मंदिर बनाने का वादा हर हाल में पूरा होना चाहिए।

उद्धव ठाकरे ने कहा शिवसेना मुसलमानों का भी स्वागत करती है। शिवसेना मुस्लिम आरक्षण और धनगर आरक्षण की पक्षधर है।

शिवाजी महाराज की सेना में महाराष्ट्र के मुसलमान और दूसरे सभी धर्मों के लोगों ने दिल्ली के शासकों का तख्त हिला दिया था। उन्‍होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा क्या शरद पवार प्रधानमंत्री के रुप में होने चाहिए थे?

मुलायम, महबूबा, मायावती जैसे लोग होने चाहिए थे। इनकी तुलना में पीएम मोदी एक मजबूत व्यक्ति हैं, इसीलिए हमने लोकसभा चुनाव में खुलकर भाजपा का समर्थन किया-गठबंधन किया।

जिस तरह भाजपा-शिवसेना का गठबंधन हुआ, उसी तरह सपा-बसपा का गठबंधन हुआ। लेकिन उनमें सत्ता की लालसा थी इसलिए जनता ने उन्हें नकार दिया।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma