झारखंड विधानसभा चुनाव : श्वेता सिंह के चुनावी समर में उतर जाने के बाद संग्राम शुरू

झारखंड विधानसभा चुनाव : श्वेता सिंह के चुनावी समर में उतर जाने के बाद संग्राम शुरू

बोकारो : बोकारो से कांग्रेस के संजय कुमार का टिकट काटकर श्वेता सिंह को दिए जाने के बाद समर्थन और विरोध का स्वर तेज हो गया है।

सिंबल लेकर बोकारो पहुंची श्वेता सिंह ने समर्थकों के साथ कई मंदिरों में जाकर मत्था टेका। वहीं, श्वेता को टिकट दिए जाने के बाद ब्रह्मर्षि समाज ने कांग्रेस का विरोध किया है, तो युवा कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष देव शर्मा ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देकर चुनाव लड़ने की घोषणा की है।

बोकारो और चंदनकियारी में गठबंधन के प्रत्याशियों की घोषणा के साथ ही चुनावी पारा चढ़ गया है। दूसरी ओर चंदनकियारी से महागठबंधन से विजय रजवार के नाम की घोषणा कर दी गई।

इसके बाद दोनों विधानसभा सीट पर सरगर्मी बढ़ गई। महागठबंधन से कांग्रेस की उम्मीदवार श्वेता सिंह ने दिल्ली से रांची के रास्ते बोकारो आने के क्रम में कई मंदिरों में मत्था टेका।

जैनामोड़ दुर्गा मंदिर में मत्था टेकने के बाद वहां से कार्यकर्ताओं के साथ रैली निकाली, जो बोकारो तक आईं। रैली बोकारो पहुंचने के बाद बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर दुंदीबाद सहित कई मंदिरों में गईं।

श्वेता के काफिले में उत्साहित कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए चल रहे थे। श्वेता के साथ उनके ससुर पूर्व मंत्री समरेश सिंह, क्रांतिकारी इस्पात मजदूर संघ के महामंत्री संग्राम सिंह आदि थे। अब श्वेता के चुनावी समर में उतर जाने के बाद संग्राम शुरू हो गया है।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma