बोकारो : दहेज प्रताड़ना मामले में पीड़िता के देवर और सास को तीन-तीन साल की सजा

बोकारो : दहेज प्रताड़ना मामले में पीड़िता के देवर और सास को तीन-तीन साल की सजा

बोकारो : दहेज प्रताड़ना के एक मामले में तेनुघाट कोर्ट ने रंजन वर्मा और आरती देवी को तीन-तीन साल की सजा सुनाई है। इन दोनों के खिलाफ गोमिया थाना के खुदगड़ा की सरिता देवी ने तेनुघाट कोर्ट में परिवाद पत्र दायर किया था।

एसडीजेएम संजीत कुमार चंद्र ने इन दोनों को दहेज प्रताड़ना का दोषी पाते हुए सजा सुनाई है। सरिता देवी ने कोर्ट को बताया था कि उसकी शादी चतरा के जीतेंद्र स्वर्णकार के साथ 2007 में शादी हुई थी, लेकिन शादी के बाद से ही उसे प्रताड़ित किया जाने लगा।

दहेज के लिए उसके देवर रंजन वर्मा और सास आरती देवी भी प्रताड़ित करती थी। उसने बताया कि 2008 में उसे घर से निकाल दिया गया था।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma