डायन बिसाही मामला : चुरचू थाना में आठ लोगों के खिलाफ प्राथमिकी

डायन बिसाही मामला : चुरचू थाना में आठ लोगों के खिलाफ प्राथमिकी

हजारीबाग : डायन बिसाही के मामले में हजारीबाग मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती दंपति सुनीता मुर्मू व पति सुनील टूडू के पुत्र अरविंद टूडू के बयान पर चुरचू थाना में प्राथमिक दर्ज कर लिया गया है।

फर्द बयान लेने चुरचू थाना के एएसआई सुनील कुमार उरांव अस्पताल पहुंचे थे। फर्द बयान के आधार पर इस मामले में आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपी बनाया गया है।

सहदेव टूडू, रीतलाल टूडू, दिनेश टुडू, सोनाराम टूडु, राजेंद्र टूडू, विनय टूडू, बुधन टूडू और अंजय टूडू को आरोपी बनाया गया है।

बयान में अरविंद टुडू ने कहा कि मांझी हड़ाम संजू टूडू के निमंत्रण पर रविवार को गांव में पंचायत बुलाई गई थी, जिसमें सहदेव टूडू ने आरोप लगाया कि उसकी पत्नी सीतामुनि टूडू को उसकी मां सुनीता मुर्मू और पिता सुनील टूडू ने जादू टोना और डायन बिसाही कर मार दिया है।

संथाल परगना से एक तांत्रिक को बुलाया गया था, जिसने उसके माता-पिता पर डायन बिसाही का आरोप लगाया था। इसी को लेकर पंचायत बुलाई गई थी।

पंचायत में चुरचू प्रखंड के उप प्रमुख चोलेश्वर महतो, चनारो पंचायत के उप मुखिया जितेन सोरेन भी मौजूद थे। उपरोक्त आरोपियों पर माता-पिता के साथ मारपीट कर घायल कर दिए जाने की बात कही गई।

अपने बयान में उसने कहा कि सहदेव टूडू की पत्नी सीतामुनि टूडू को पेट में पथरी था, जिसके कारण उसे सूजन हो गया था। उसे पहले चरही में इलाज कराया गया फिर हजारीबाग मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में इलाज चला।

स्थिति बिगड़ने पर सहदेव टूडू के परिजन रांची ले गए, जहां उसकी मौत हो गई थी। अरविंद टुडू ने बताया कि उप प्रमुख चोलेश्वर महतो, उप मुखिया जितेन सोरेन व पंचायत के कई लोग दोनों पक्षों में समझौता कराने में जुटे हैं।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma