बोकारो में ठेकेदार की गाड़ी पर फायरिंग, चास में पुलिस के साथ मुठभेड़

बोकारो में ठेकेदार की गाड़ी पर फायरिंग, चास में पुलिस के साथ मुठभेड़

बोकारो : बोकारो में बेखौफ अपराधियों ने शहर के बेलगाम अपराध में और इजाफा करते हुए दिनदहाड़े दो अलग-अलग जगहों पर दोहरे गोलीकांड को अंजाम दिया।

सिटी थाना क्षेत्र अंतर्गत पत्थरकट्टा चौक पर बाइक सवार अपराधियों ने रेलवे एक रेलवे ठेकेदार विश्वामित्र राय की कार पर फायरिंग की तो दूसरी ओर चास में इसके कुछ समय पहले ही चास गरगा पुल के समीप गुमला कालोनी के जंगल में पुलिस पर बदमाशों ने गोलियां बरसाईं।

शनिवार को सरेआम दिनदहाड़े इस दोहरे गोलीकांड के बाद पूरे इलाके में सनसनी मची रही। शहर में जहां चर्चा का बाजार गर्म रहा, वहीं पुलिस दिनभर मामले की छानबीन और अपराधियों की धर-पकड़ में लगी रही।

Uploaded Image

मुठभेड़ में भोलू उर्फ सन्नी नामक एक अपराधी को दबोचने में कामयाबी पाई, बाकी की तलाश खबर लिखे जाने तक जारी थी।

बाल-बाल बचे ठेकेदार, कार के गेट में हुई छेद

पत्थरकट्टा चौक पर रेलवे ठेकेदार विश्वामित्र राय के ऊपर लगभग सुबह 10.30 बजे अज्ञात अपराधियों ने उस वक्त गोलियां चलाईं जब वह चीरा चास स्थित अपने आवास से हुंडई आई20 कार से बोकारो मॉल जा रहे थे।

इसी क्रम में चौक के नजदीक बाइक से आए दो अपराधियों ने दो गोलियां चलाईं, जो सीधे कार की बाएं तरफ के गेट पर जाकर लगी। इससे दरवाजे में छेद हो गई। गोलियां दागने के बाद दोनों अपराधी मौके से भाग निकलने में कामयाब रहे।

उन्होंने तत्काल पुलिस को सूचित किया। जानकारी मिलने पर सिटी डीएसपी ज्ञान रंजन ने मौके पर पहुंचकर छानबीन की।

Uploaded Image

डीएसपी ने मामले की जांच जारी होने तथा जल्द ही इस कांड का खुलासा कर लिए जाने की बात कही। वहीं, ठेकेदार का कहना है कि वह किसी को नहीं जानते। किसने और क्यों गोलियां चलाईं, यह उन्हें नहीं मालूम।

लूट के बाद छापेमारी के क्रम में हुई मुठभेड़

पुलिस 17 जनवरी को चास के रामनगर कालोनी निवासी पंकज कुमार वर्णवाल के साथ हुई लूटपाट मामले में अपराधियों की धर-पकड़ के लिए छापेमारी कर रही थी, उसी दरम्यान मुठभेड़ की घटना हुई।

कुंवर सिंह कालोनी के एक घर में छिपे अपराधी सन्नी उर्फ भोलू ने पुलिस को देख गरगा नदी पारकर गुमला कालोनी के जंगल के रास्ते भागने की कोशिश की।

इसी क्रम में उसने पुलिस पर आठ राउंड गोलियां तड़त़डा दी, जिसके बाद पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। इसमें एक गोली उसे छूती हुई निकल गई। इससे उसके चेहरा जख्मी हो गया और पुलिस ने उसे दबोच लिया।

देररात हथियार के बल पर हुई थी लूटपाट

17 जनवरी की देर रात अपनी स्कूटी से घर लौट रहे पंकज कुमार वर्णवाल को दो अपराधियों ने मेन रोड से हथियार के बल पर अगवा कर लिया। वे पंकज को चास की राणाप्रताप नगर कालोनी ले गए।

वहां अन्य दो साथियो को बुलाकर उसकी सोने की चेन,15 हजार रुपए नकद और एक महंगा मोबाइल फोन लूट लिए। इसके बाद गरगा नदी की ओर जान मारने की नीयत से उसे ले जाने का भी प्रयास किया, लेकिन उसके शोर करने के बाद वे डर गए और फिर किसी तरह अंधेरे का लाभ उठाकर पंकज कुमार वर्णवाल वहां से भागने में सफल रहे थे।

Uploaded Image

इस बावत उसकी ओर से दर्ज प्राथमिकी के आलोक में पुलिस अपराधियों की धर-पकड़ को लेकर छापेमारी में लगी थी। मौके से सन्नी तो पकड़ा गया, लेकिन उसके तीन अन्य साथी भागने में सफल रहे।

पुलिस उन्हें भी गिरफ्तार करने की कोशिश में लगी है।चास के एसडीपीओ भगवान दास का कहना है कि सन्नी उर्फ भोलू अपराधिक छवि का है और उस पर चास थाने में चार मामले दर्ज हैं।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma