भाजपा आरक्षण विरोधी, युवाओं के लिए कहीं भी कोई रोजगार नहीं: सुबोध कांत सहाय

भाजपा आरक्षण विरोधी, युवाओं के लिए कहीं भी कोई रोजगार नहीं: सुबोध कांत सहाय

रांची/लखनऊ : वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय ने कहा है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजों ने देश से ध्रुवीकरण की राजनीति को नकार दिया है। कांग्रेस नेता ने इसी वर्ष के अंत में बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव में भी परिवर्तन की भविष्यवाणी की है।

श्री सहाय ने कहा कि दिल्ली चुनाव और इससे पहले झारखंड विधानसभा के चुनावों ने देश को बड़ा संदेश दिया है। उन्होंने कहा कि इन दोनों चुनावों के नतीजों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की रणनीति का सफाया कर दिया।

जनता ने इनके मंसूबों को नकारते हुए पूरे देश को बड़ा संदेश दिया कि जाति और धर्म के नाम पर ध्रुवीकरण की राजनीति अब समाप्त हो चुकी है।

Uploaded Image

पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री सहाय एक शादी समारोह में भाग लेने राजधानी लखनऊ पहुंचे थे। इस दौरान `हिन्दुस्थान समाचार` से एक विशेष वार्ता में उन्होंने कहा कि भाजपा शासन में देश की अर्थव्यवस्था एकदम चरमरा गई है।

बैंक के दरवाजे आम आदमी के लिए बंद हो चुके हैं। सरकारी प्रतिष्ठान एक-एक करके निजी हाथों में सौपे जा रहे हैं। देश का निर्यात घटता जा रहा है और आयात बढ़ रहा है।

उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र की वर्तमान मोदी सरकार हर मोर्चे पर असफल है। युवाओं के लिए कहीं भी कोई रोजगार नहीं है।

प्रोन्नति में आरक्षण के सवाल पर कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि भाजपा सदैव ही आरक्षण विरोधी रही है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस इस मुद्दे को लेकर पूरे देश में अभियान चलाएगी।

वर्ष के अंत तक बिहार में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर पूछे गये सवाल पर श्री सहाय ने कहा कि वहां के मुख्यमंत्री और जेडीयू नेता नीतीश कुमार अब पूरी तरह से भाजपा की गोदी में खेल रहे हैं।

उनका और उनकी पार्टी का राज्य में कोई वजूद नहीं रह गया है। ऐसे में बिहार के विधानसभा चुनाव में भी बड़ा परिवर्तन होगा।

एक अन्य सवाल के जवाब में श्री सहाय ने कहा कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में अच्छा काम कर रही हैं।

Uploaded Image

उन्होंने कहा कि वह व्यक्तिगत रुप से प्रियंका गांधी के नेतृत्व क्षमता और उनकी कार्य प्रणाली के मुरीद हैं। श्री सहाय ने उम्मीद जतायी कि आने वाले दिनों में कांग्रेस उत्तर प्रदेश में अच्छा परफार्म करेगी और वर्ष 2022 में सरकार बनाने के लिए यहां का विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

श्री सहाय ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यहां की कानून व्यवस्था बिल्कुल ध्वस्त हो चुकी है। कहा कि भाजपा सरकार में उत्तर प्रदेश का विकास कार्य एकदम ठप पड़ गया है। सरकार नौजवानों को रोजगार नहीं दे पा रही है।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma